Home /News /haryana /

IAS अशोक खेमका ने साधा निशाना, बोले- लॉकडाउन में किसी VIP को लाइन में खड़ा नहीं देखा

IAS अशोक खेमका ने साधा निशाना, बोले- लॉकडाउन में किसी VIP को लाइन में खड़ा नहीं देखा

आईएएस अशोक खेमका (फाइल फोटो)

आईएएस अशोक खेमका (फाइल फोटो)

अशोख खेमका ने ट्वीट किया कि उन्‍होंने किसी वीवीआईपी को इस Lockdown में भी आवश्यक जरूरतों के लिए जनसाधारण के साथ लाइन में खड़े होते नहीं देखा.

    चंडीगढ़. अपनी 27 साल की नौकरी में 53 तबादलों के लिए चर्चित हरियाणा के सीनियर आईएएस अशोक खेमका (Ashok Khemka) ने एक बार फिर ट्वीट कर वीवीआईपी कल्चर (VIP Culture) पर निशाना साधा है. खेमका ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'मैंने किसी वीवीआईपी को इस लॉकडाउन अवधि में भी आवश्यक जरूरतों के लिए जनसाधारण की लाइन में खड़े होते नहीं देखा. हां, उन्हें दूसरों को सामान वितरित करते और फोटो खींचवाते हुए जरूर देखा है. जाके पांव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई.'

    बता दें कि पिछले साल नवंबर महीने में सीनियर आईएएस अशोक खेमका का 53वां तबादला किया गया था. उन्हें अभिलेखागार, पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग में प्रमुख सचिव बनाया गया था. खेमका इससे पहले विज्ञान एवं तकनीक विभाग के प्रमुख सचिव पद पर कार्यरत थे. 8 महीने बाद खेमका का यह तबादला किया गया था.



    तबादला होने पर किया था ट्वीट
    तबादला होने के बाद खेमका ने ट्वीट कर अपना दुख जाहिर किया था. उन्होंने ट्वीट कर लिखा था कि फिर तबादला, लौट कर फिर वहीं. आज सर्वोच्च न्यायालय के आदेश एवं नियमों को एक बार और तोड़ा गया. कुछ प्रसन्न होंगे. अंतिम ठिकाने जो लगा, ईमानदारी का ईनाम जलालत.



    भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम पर उठाए थे सवाल
    खेमका हरियाणा सरकार की भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम पर भी सवाल उठा चुके हैं. खेमका ने ट्वीट (Tweet) कर 9 दिसम्बर को अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस के आयोजन पर सवाल उठाते हुए कहा था कि आयोजन करने से भ्रष्टाचार खत्म नहीं होगा. इस आयोजन पर कितना पैसा खर्च हुआ, यही पता लगा लें तो भ्रष्टाचार का पता लग जाएगा. इस आयोजन में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर समेत तमाम आईएएस और आईपीएस अधिकारी मौजूद थे. खेमका भी इस समारोह में शामिल थे.



    खेमका ने अपने ट्वीट में लिखा है कि 9 दिसंबर को भ्रष्टाचार विरोधी दिवस मनाया गया. सच कहूं तो सच्चाई का अनुभव नहीं हुआ. क्या ऐसे आयोजनों से भ्रष्टाचार कम हो जाएगा? सिर्फ यही पता लगा लें कि आयोजन में कुल कितना खर्च हुआ.

    ये भी पढ़ें-

    Lockdown: कोटा में फंसे 44 छात्र हरियाणा रोडवेज की बस से पहुंचे जींद

    COVID-19: दिल्ली-सोनीपत बॉर्डर सील, 3 मई तक आवाजाही पर बैन

    Tags: Ashok khemka, Coronavirus, Covid19, Haryana news, Lockdown

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर