हरियाणा: अध्यक्ष पद की कुर्सी छिन जाने के बाद सोनिया गांधी से मिले अशोक तंवर, कही ये बात

News18 Haryana
Updated: September 6, 2019, 10:11 AM IST
हरियाणा: अध्यक्ष पद की कुर्सी छिन जाने के बाद सोनिया गांधी से मिले अशोक तंवर, कही ये बात
हरियाणा कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सोनिया गांधी

सोनिया गांधी से मिलने के बाद अचानक तंवर के सुर बदल गए. तंवर कांग्रेस का गुणगान करने लगे और इशारों-इशारों में कांग्रेस के विरोधी साथियों पर भी निशाना साध गए.

  • Share this:
दिल्ली. हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर (Ashok Tanwar) की कुर्सी गई और कुमारी शैलजा (Kumari Shailja) को कमान सौंपी गई. पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) को हरियाणा विधानसभा चुनाव में चुनाव कमेटी का चेयरमैन के साथ विधायक दल का नेता बनाया गया. इतना ही काफी था हरियाणा कांग्रेस में नई कलह को जन्म देने के लिए. लेकिन अशोक तंवर ने शुरुआत में तो कुछ भी कहने से इनकार कर दिया. फैसला हाईकमान का था तो तंवर साहब सीधे तौर पर तेवर दिखा भी नहीं सकते थे.

लेकिन उनके समर्थकों ने आलाकमान को आंखें दिखाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी. तंवर समर्थकों की नाराजगी ही थी कि जिस गुलाम नबी आजाद की तारीफ में कसीदे पढ़ते थे आज उन्ही के खिलाफ ही नारेबाजी करने लगे. तंवर समर्थकों के विरोध में उस वक्त ट्विस्ट आया जब अशोक तंवर पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने पहुंचें.

सोनिया गांधी से मिलने के बाद अचानक तंवर के सुर बदल गए. तंवर कांग्रेस का गुणगान करने लगे और इशारों-इशारों में कांग्रेस के विरोधी साथियों पर भी निशाना साध गए. तंवर ने कहा कि साढे 5 साल मुझे अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी के लिए सोनिया जी का धन्यवाद. तंवर ने अब तक के सफर के लिए सोनिया जी और राहुल जी का धन्यवाद किया. तंवर ने कहा कि सब नए पदाधिकारियों को मेरी तरफ से बहुत-बहुत शुभकामनाएं. कांग्रेस के सच्चे सिपाही की तौर पर मजदूर किसान की लड़ाई लड़ते रहेंगे.

समर्थकों की नाराजगी पर कही ये बात

वहीं तंवर ने कहा कि अगर नई टीम हमें साथ लेकर चलेगी तो हम चलेंगे. अपने समर्थकों की नाराजगी पर अशोक तंवर ने कहा कि नाराजगी समर्थकों में है और होनी भी चाहिए. लेकिन अनुशासन में रहते हुए ही कार्यकर्ता अपनी बात रखें.

क्या खत्म होगी कांग्रेस की गुटबाजी

अब सवाल ये है कि क्या हरियाणा कांग्रेस में गुटबाजी खत्म हो सकेगी. क्या तंवर और किरण की जोड़ी शैलजा और हुड्डा की जोड़ी के साथ मिलकर कांग्रेस की चंडीगढ़ की यात्रा पूरी करवाएगी. इनके अलावा भी दिल्ली कांग्रेस दरबार में अपनी साख रखने वाले रणदीप सुरजेवाला शांत बैठेंगे.
Loading...

ये भी पढ़ें:- टीचरों ने खून से लिखा पीएम मोदी को खत, कहा-हमें पक्का करो

'महिला डॉक्टर की लापरवाही के कारण मां-बच्चे की गई जान'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 6, 2019, 10:06 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...