लाइव टीवी

Assembly Elections 2019: हरियाणा और महाराष्ट्र के चुनाव प्रचार में छाए रहे ये पांच मुद्दे

News18Hindi
Updated: October 21, 2019, 8:46 AM IST
Assembly Elections 2019: हरियाणा और महाराष्ट्र के चुनाव प्रचार में छाए रहे ये पांच मुद्दे
महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव प्रचार में पांच मुद्दे प्रमुखता से छाए रहे. (प्रतीकात्मत तस्वीर)

Assembly Elections 2019: भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने महाराष्‍ट्र और हरियाणा में सत्ता कायम रखने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी है. वहीं, विपक्षी दल भी पूरी मजबूती के साथ चुनौती दे रहे हैं. लोकसभा चुनाव के बाद एनडीए और विपक्ष के बीच यह पहला सीधा मुकाबला है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 21, 2019, 8:46 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Haryana And Maharashtra Assembly Elections 2019) के लिए मतदान (Voting) शुरू हो चुका है. भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने दोनों राज्यों की सत्ता में वापसी के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी है. वहीं, विपक्षी दल भी मजबूती से चुनौती दी है. लोकसभा चुनाव के बाद एनडीए और विपक्ष के बीच यह पहला सीधा मुकाबला है. पिछले एक महीने से चुनाव प्रचार के दौरान कुल पांच ऐसे मुद्दे हैं जो छाए रहे.इनमें 370, किसानों की समस्या, वीर सावरकर, बेरोजगारी और राष्ट्रवाद का मुद्दा सबसे अहम रहा.

जम्मू-कश्मीर से 370 का खात्मा सबसे बड़ा मुद्दा
महाराष्ट्र और हरियाणा के विधानसभा चुनाव में आर्टिकल 370 के निरस्तीकरण का मुद्दा छाया रहा. 5 अगस्त को केंद्र की बीजेपी सरकार ने जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले इस आर्टिकल को निरस्त कर दिया. चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री मोदी से लेकर बीजेपी के तामम नेताओं ने आर्टिकल 370 के मुद्दे को जनता के बीच जोर-शोर से ले गए. इस मुद्दे पर पीएम मोदी ने विपक्ष को जमकर घेरा. उन्होंने कहा कि कांग्रेस-एनसीपी के लोग इसपर अपना स्टैंड साफ करें.

वहीं, महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार करने के दौरान पीएम मोदी ने विपक्ष को चुनौती देते हुए कहा था कि अगर हिम्मत है तो वे ऐलान करें कि सत्ता में आने के बाद अनुच्‍छेद 370 को वापिस ला देंगे. पीएम मोदी ने यहां तक कह दिया कि इस मुद्दे पर विरोध करने वालों को चुल्लू भर पानी में डूब जाना चाहिए.

दोनों राज्यों में किसानों का मुद्दा छाया रहा
हर चुनाव की तरह इस चुनाव में भी किसानों का मुद्दा प्रमुखता से छाया रहा. हरियाणा से ज्यादा महाराष्ट्र में यह मुद्दा छाया रहा. महाराष्ट्र के विदर्भ में किसानों की आत्महत्या और कई इलाकों में पानी की समस्या के मुद्दे को आम लोगों ने नेताओं के सामने उठाया. किसानों के मुद्दे को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपनी हर रैली में उठाया. उन्होंने सरकार पर किसानों की समस्या का अनदेखी करने का आरोप भी लगाया.

वीर सावरकर को भारत रत्न देने का वादा
Loading...

इन विधानसभा चुनाव के दौरान वीर सावरकर का मुद्दा प्रमुखता से उठा. इसपर आर्टिकल 370 के बाद सबसे ज्यादा चर्चा हुई. महाराष्ट्र में बीजेपी ने अपना घोषणा पत्र जारी करते हुए वादा किया कि सत्ता में वापसी पर स्वतंत्रता सेनानी विनायक दामोदर सावरकर को भारत रत्न दिलाएंगे. बीजेपी के इस ऐलान के बाद मुख्य धारा की मीडिया से लेकर सोशल मीडिया पर भी इसको लेकर जमकर चर्चा हुई.

कांग्रेस ने इसको लेकर बीजेपी पर हमला बोला. कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने यहां तक कह दिया कि वीर सावरकर के लिए भारत रत्न का वादा करना राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का अपमान है. उनका तर्क था कि महात्मा गांधी की हत्या के मामले में वीर सावरकर पर भी मुकदमा चला था.

बेरोजगारी
अर्थव्यवस्था में सुस्ती और बेरोजगारी विपक्ष के लिए सबसे बड़ा मुद्दा रहा. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इसको लेकर सरकार से लगातार सवाल पूछे. उन्होंने कहा कि चांद पर जाने से किसी का पेट नहीं भरेगा. युवाओं के नौकरी के लिए इस सरकार ने कुछ नहीं किया. उन्होंने कहा कि जब बेरोजगारी और अर्थव्यवस्था में सुस्ती की बात की जाती है, तब सरकार चांद और अनुच्‍छेद 370 की बात करने लगती है. बेरोजगारी देश में 45 साल में सबसे ज्यादा है.

राष्ट्रवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा
बीजेपी ने राष्ट्रवाद के मुद्दे को प्रमुखता से उठाया. सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक, आर्टिकल 370 और सेना के शौर्य के मुद्दे को बीजेपी ने राष्ट्रवाद से जोड़ा. पाकिस्तान को सबक सिखाने की बात भी हुई. प्रधानमंत्री ने कहा कि हम पाकिस्तान जा रहे नदियों के पानी को रोक कर हरियाणा के लिए देंगे. इसके साथ ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राफेल को भी चुनावी मुद्दा बनया. उन्होंने कहा कि अगर राफेल हमारे पास होता तो हमें सीमा पार कर सर्जिकल स्ट्राइक करने की जरूरत नहीं पड़ती. हम अपने देश से ही उन ठिकानों को नष्ट कर देते.

ये भी पढ़ें-

Maharashtra-Haryana Assembly Elections 2019 LIVE: वोटिंग शुरू, गुरुग्राम और फरीदाबाद में EVM में गड़बड़ी

11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव से जुड़े ये हैं 11 रोचक तथ्य, जानकार रह जाएंगे हैरान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 21, 2019, 8:22 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...