1 लाख 80 हजार सालाना आय वाले परिवारों को आयुष्मान भारत कार्ड देंगे- स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज

हरियाणा सरकार ने 1लाख 80 हजार रुपये तक वार्षिक आय वाले परिवारों का ''आयुष्मान भारत कार्ड'' बनाने का निर्णय लिया है.

News18 Haryana
Updated: September 13, 2019, 1:54 PM IST
1 लाख 80 हजार सालाना आय वाले परिवारों को आयुष्मान भारत कार्ड देंगे- स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज
आयुष्मान भारत योजना का लाभ लेने के लिए 'अटल सेवा केंद्र' पर बनवाएं 'परिवार पहचान पत्र'
News18 Haryana
Updated: September 13, 2019, 1:54 PM IST
चंडीगढ़. हरियाणा सरकार ने 1लाख 80 हजार रुपये तक वार्षिक आय वाले परिवारों का ''आयुष्मान भारत कार्ड'' बनाने का निर्णय लिया है. इस योजना के तहत आने वाले परिवार प्रत्येक वर्ष 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज करवा सकते हैं. इसका सारा खर्च हरियाणा सरकार (Haryana Government) वहन करेगी. हरियाणा सरकार में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने लोगों को ट्वीटर के जरिए ये जानकारी दी है. स्वास्थ्य मंत्री ने हितग्राहियों को ट्वीटर के जरिए ही बताया कि वे यह कार्ड '' अटल सेवा केंद्र '' (Atal Seva Kendra) पर बनवा सकते हैं. मंत्री ने ट्वीटर पर लिखा,  '' अपना "परिवार पहचान पत्र" बनवाएं, अगर आपकी आय 1.80 से कम है तो कार्ड आपके घर पहुंच जाएगा. ''




गौरतलब है कि ''आयुष्मान भारत योजना'' (Ayushman Bharat Yojana) के तहत प्रत्येक परिवार सालाना 5 लाख तक मुफ्त में इलाज करवा सकता है. इसके तहत लाभूक देश भर के ऐसे किसी भी निजी या सरकारी अस्पताल में कैशलेस इलाज करवा सकता है जो सरकार के पैनल में शामिल हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा है कि 15 से 30 सितंबर तक ''आयुष्मान भारत पखवाड़ा'' मनाया जाएगा.

Loading...

23 सितम्बर को मनाया जाएगा ''आयुष्मान भारत दिवस''

उधर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Dr. Harshvardhan) ने सूचना दी है कि आगामी 23 सितम्बर को '' आयुष्मान भारत दिवस '' के रूप में मनाया जाएगा. 15 से 30 सितंबर तक ''आयुष्मान भारत पखवाड़ा'' मनाया जाएगा. इस दौरान देश भर के राज्यों में इस सरकारी योजना के बारे में जागरुकता फैलाने कि लिए कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा.

बता दें कि पिछले एक साल में '' आयुष्मान भारत योजना '' से 45 लाख मरीज लाभान्वित हुए हैं. इन सभी मरीजों ने अस्पताल में भर्ती होकर सरकारी स्वास्थ्य योजना का लाभ उठाया. इस योजना के तहत अबतक 10 करोड़ ई-कार्ड (e-cards) जारी किए जा चुके हैं. साथ ही पैनल में देश भर के 18,000 अस्पताल शामिल किए गए हैं.

ये भी पढ़ें - पिस्टल छीन लुटेरों से भिड़ी महिला, सास और देवरानी की बचाई जान

ये भी पढ़ें - विधानसभा चुनाव में अपने दम पर 85 सीटें जीतेगी भाजपा: रतन लाल कटारिया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 13, 2019, 1:54 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...