पंजाब: बोरवेल में गिरा 2 साल का बच्चा, 16 घंटे से NDRF की कवायद जारी
Chandigarh-City News in Hindi

पंजाब के संगरूर में बीते दिन से बोरवेल में गिरे 2 साल के बच्चे को निकालने की कोशिश की जा रही है. पूरी रात एनडीआरएफ की टीम बच्चे को निकालने लगी रही.

  • Last Updated: June 8, 2019, 5:26 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
पंजाब के संगरूर में बीते दिन से बोरवेल में गिरे 2 साल के बच्चे को निकालने की कोशिश की जा रही है. पूरी रात एनडीआरएफ की टीम बच्चे को निकालने लगी रही.मौके पर एनडीआरएफ की टीम के अलावा प्रशासनिक अधिकारी और पंजाब पुलिस भी जुटी हुई है.

घटना गुरुवार शाम करीब साढ़े 4 बजे की है. मिली जानकारी के अनुसार संगरूर जिले के गांव भगवानपुरा निवासी सुखविंदर सिंह का परिवार खेत में काम कर रहा था. इस दौरान वहां खेल रहा 2 साल का बेटा फतेहबीर सिंह न जाने कब उस तरफ चला गया, जहां पिछले 10 साल से बंद पड़े बोरवेल को प्लास्टिक के कट्‌टे डालकर ढक रखा था. धूप और बारिश में कमजोर हो चुके कट्‌टे पर जैसे ही बच्चे का पैर पड़ा, वह उसी में ही उलझकर बोरवेल में चला गया.

बच्चे के नीचे गिरने का पता चलते ही घर वालों के हाथ-पैर फूल गए. उन्होंने आनन-फानन में पुलिस प्रशासन को सूचित किया. देखते ही देखते इस घटना की जानकारी इलाके में फैलती चली गई और मौके पर लोगों का हुजूम उमड़ना शुरू हो गया. फिर जेसीबी और ट्रैक्टर्स की मदद से बच्चे को रेस्क्यू किए जाने की कोशिशें शुरू कर गई.



16 घंटे से जारी है कवायद



बच्‍चा पिछले 16 घंटे से करीब 120 फुट की गहराई में बोरवेल में फंसा हुआ है. उसे बचाने के लिए स्थानीय प्रशासन एनडीआरएफ और पंजाब पुलिस की मदद से एक रेस्क्यू ऑपरेशन चला रहा है और लगातार बोरवेल के साथ खुदाई करके बच्चे को निकालने की कोशिश की जा रही है. इस दौरान बोरवेल में कैमरा डालकर फतहवीर सिंह की मूवमेंट पर भी नजर रखी जा रही है.

ये भी पढ़ें-

रोहतक में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, 4 गिरफ्तार

दुकान में शराब पीने से मना किया तो लाठी से पीट-पीट कर मार डाला

फरीदाबाद में चलती कार बनी 'आग का गोला', बाल-बाल बचा परिवार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading