• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • Cabinet Decision: भारतीय हॉकी टीम में शामिल हरियाणा के दो खिलाड़ियों को मिलेंगे ढाई-ढाई करोड़ रुपये

Cabinet Decision: भारतीय हॉकी टीम में शामिल हरियाणा के दो खिलाड़ियों को मिलेंगे ढाई-ढाई करोड़ रुपये

हरियाणा कैबिनेट की बैठक के बाद फैसलों की जानकारी दी मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने.

हरियाणा कैबिनेट की बैठक के बाद फैसलों की जानकारी दी मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने.

Cabinet Decision: हरियाणा कैबिनेट की बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले किए गए. 20 अगस्त से मॉनसून सत्र शुरू किए जाने का भी निर्णय किया गया. इसके लिए राज्यपाल से मंजूरी ली जाएगी.

  • Share this:

चंडीगढ़. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ओलंपिक में पुरुष हॉकी टीम के कांस्य पदक जीतने पर टीम में शामिल हरियाणा के दोनों खिलाड़ियों को ढाई-ढाई करोड़ रुपये का पुरस्कार दिए जाने के साथ ही सीनियर कोच (ग्रुप बी) की नौकरी दिए जाने की घोषणा की है. इसके साथ ही दोनों को हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के प्लाट रियायती दरों पर प्रदान किए जाएंगे. मुख्यमंत्री ने ये घोषणाएं हरियाणा मंत्रिमंडल की बैठक के बाद कीं.

मुख्यमंत्री ने पुरुष हॉकी टीम की जीत पर प्रदेशवासियों और देशवासियों को बधाई देते हुए टीम इंडिया को भी शुभकामनाएं दीं. उन्होंने कहा कि 41 वर्ष के बाद हॉकी टीम ने इतिहास बनाते हुए ओलंपिक में कांस्य पद जीतकर देश का गौरव बढ़ाया है और हमारे लिए यह और भी गर्व की बात है कि इस टीम में हरियाणा के दो खिलाड़ी शामिल हैं जिन्होंने पूरी प्रतियोगिता के दौरान शानदार प्रदर्शन किया.

जमीन की अदला-बदली के लिए स्टाम्प डयूटी में छूट

पत्रकारों से बातचीत के दौरान मंत्रिमंडल के निर्णयों के बारे में मुख्यमंत्री ने बताया कि अब किसानों को अपनी जमीन की अदला-बदली करने के लिए पूरी स्टाम्प डयूटी नहीं देनी पड़ेगी. मंत्रिमंडल में यह प्रस्ताव पास किया गया है कि एक ही राजस्व संपदा में जमीन की अदला-बदली किसान मात्र 5 हजार रुपये की स्टाम्प डयूटी देकर कर सकेंगे.

सरकार को जमीन बेच सकेंगे किसान

मुख्यमंत्री ने बताया कि बहुत से मामलों में किसानों को मजबूरी में ओने-पौने दाम में अपनी जमीन बेचनी पड़ती है, ऐसे किसान सरकार को अपनी जमीन बेच सकेंगे. इस जमीन का उपयोग सरकारी परियोजनाओं के लिए किया जाएगा. उन्होंने बताया कि कई बार अच्छे प्रोजेक्ट के लिए जमीन मिलना मुश्किल हो जाता है, इस बात को ध्यान में रखते हुए लैंड बैंक बनाने का निर्णय किया गया है. इसमें किसान सरकार को जमीन बेचने के लिए प्रस्ताव कर सकता है.

गेस्ट टीचर भी ट्रांसफर पॉलिसी में शामिल

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बताया कि मंत्रिमंडल की बैठक में गेस्ट टीचरों को भी ट्रांसफर पॉलिसी में शामिल करने का निर्णय किया गया है. उन्होंने बताया कि पहले नियमित अध्यापकों की ट्रांसफर ड्राइव चलेगी, उसके बाद गेस्ट टीचर ट्रांसफर ड्राइव के दूसरे चरण में शामिल हो सकेंगे. उन्होंने कहा कि गेस्ट टीचर काफी समय से स्वयं को ट्रांसफर पॉलिसी में शामिल करने की मांग कर रहे थे. उन्होंने बताया कि निशक्त टीचरों को ट्रांसफर ड्राइव में विशेष छूट मिलेगी. इसके अलावा लिपिक सहायक और लैब अटेंडेंट निशक्तों को भी इस पॉलिसी में छूट मिलेगी. इन्हें ट्रांसफर ड्राइव के दौरान निशक्त प्रतिशतता के आधार छूट दी जाएगी.

मानव संसाधन विभाग का गठन

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज