गुरुग्राम: फेसबुक पर फेक न्यूज़ पोस्ट करने पर कांग्रेस नेता पर मुकदमा दर्ज, मांगी माफी
Chandigarh-City News in Hindi

गुरुग्राम: फेसबुक पर फेक न्यूज़ पोस्ट करने पर कांग्रेस नेता पर मुकदमा दर्ज, मांगी माफी
कांग्रेस नेता ने बाद में फेसबुक पर एक पोस्ट कर माफी मांगी है

कांग्रेस नेता तेजबीर मायना पर आरोप है कि उन्होंने भारतीय जनता पार्टी की बैठक से सम्बंधित फेक न्यूज़ फेसबुक (Facebool) पर वायरल की. भाजपा आईटी सेल की शिकायत पर पुलिस (Police) ने मामला दर्ज कर लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 12, 2020, 2:59 PM IST
  • Share this:
गुरुग्राम. दिल्ली से सटे गुरुग्राम में कांग्रेस नेता तेजबीर मायना (Tejbir Mayna) के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. भाजपा आइटी सेल की शिकायत पर ये एफआइआर दर्ज किया गया है. कांग्रेस नेता (Congress Leader) पर गलत जानकारी शेयर और भ्रामक प्रचार करने का आरोप है. आरोप है कि तेजबीर ने भाजपा के खिलाफ फेसबुक पर फेक न्यूज़ वायरल किया था. कांग्रेस नेता तेजबीर मयाना दो दिन पहले रोहतक में हुई भारतीय जनता पार्टी की बैठक से सम्बंधित फेक न्यूज़ फेसबुक पर वायरल की थी. तेजबीर मयाना रोहतक का रहने वाला है और यह किसान कांग्रेस का पदाधिकारी है.

फेसबुक पर माफी भी मांगी

तेजबीर मायना ने बाद में फेसुबर पर एक पोस्ट कर माफी भी मांगी है. इस पोस्ट में उन्होंने लिखा है कि साथियों 8 अगस्त को मैंने बीजेपी अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ द्वारा रोहतक में ली गई मीटिंग की गलत जानकारी के आधार पर एक फेक पोस्ट डाली थी. प्रमुख नेताओं का उल्लेख कर, जिसमें कहा था कि बीजेपी बरोदा में जाट-नॉनजाट कार्ड खेल सकती है जबकि ऐसा कुछ नहीं था.मेरी इस गलत सूचना से जिनकी भावनाओं को ठेस पहुंची है, मैं उनसे दिल से माफी मांगता हूं.



डाली थी ये पोस्ट
मायना ने 8 अगस्त की रात करीब सवा 9 बजे फेसबुक पर पोस्ट की, जिसमें कहा गया कि रोहतक में बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष ओपी धनखड़ ने प्रदेश के सभी प्रवक्ताओं और पैनलिस्ट की मीटिंग ली. उन्होंने स्पष्ट संदेश दे दिया कि अब प्रदेश का संगठन सीएम की रबर स्टैंप न बनकर स्वतंत्र रूप से काम करेगा. साथ ही बरोदा उपचुनाव में भी किसी जाट को ही टिकट देने के साफ संकेत दे दिए, जबकि सीएम योगेश्वर दत्त को ही टिकट देकर नॉन जाट कार्ड खेलना चाहते थे.

आगे लिखी थी ये बात

पोस्ट में आगे लिखा गया कि जब सीएम समर्थक शमशेर खरकड़ा ने संगठन और सरकार के तालमेल पर सवाल उठाए और कहा कि ये बैठकें सिर्फ औपचारिकताएं हैं और पार्टी कार्यकर्ताओं के काम बिल्कुल नहीं हो रहे हैं तो धनखड़ ने उन्हें बुरी तरह झिड़कते हुए कहा कि ऐसी बातें करने वाले पार्टी के दुश्मन होते हैं और ऐसे व्यक्तियों को पार्टी में रहने का कोई अधिकार नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading