राहुल गांधी हुए कोरोना पॉजिटिव तो मंत्री अनिल बिज बोले- हरियाणा आकर कराएं इलाज

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि राहुल कोरोना नियमों का पालन नहीं कर रहे थे और सरकार पर सवाल उठा रहे थे. (फाइल फोटो)

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि राहुल कोरोना नियमों का पालन नहीं कर रहे थे और सरकार पर सवाल उठा रहे थे. (फाइल फोटो)

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि राहुल गांधी पहले दिन से ही कोरोना के नियमों का पालन नहीं कर रहे थे और सरकार पर सवाल उठा रहे थे. उन्होंने कहा कि अगर दिल्ली में राहुल को बेड न मिले तो वे हरियाणा आ जाएं. यहां बेहतर इलाज होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 20, 2021, 10:19 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. बीजेपी के फायर ब्रांड नेता और हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने राहुल गांधी के कोरोना संक्रमित होने पर उन्हें ही इसके लिए जिम्मेवार बताया है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी पहले दिन से ही कोरोना के नियमों का पालन नहीं कर रहे थे और सरकार पर सवाल उठा रहे थे.

अनिल विज ने राहुल गांधी को सलाह दी है कि अगर दिल्ली में उनको अस्पताल में बेड न मिले तो वे हरियाणा में आ जाएं. यहां उनका बेहतर इलाज होगा. अनिल विज ने कहा कि हरियाणा में कोरोना के मामले उन तीन जिलों में सबसे ज्यादा हैं जो कि दिल्ली की सीमा से जुड़े हैं. मंत्री ने कहा कि वे किसी को रोक नहीं सकते. पर इन तीन जिलों में आने वाले कोरोना के केस पूरे हरियाणा के आंकड़ों के आधे हैं.

किसानों की कोरोना जांच का आदेश जारी

अनिल विज ने कहा कि हरियाणा सरकार ने किसानों के कोविड टेस्ट की सभी प्रक्रिया पूरी कर ली है. टेस्ट किट से लेकर दवाइयां आदि के इंतजाम कर लिए गए हैं. उन्होंने बताया कि सोनीपत और झज्जर जिलों के जिला उपायुक्त समेत वहां के मुख्य चिकित्सा अधिकारी को भी किसानों के कोविड टेस्ट को जल्दी कर किसानों को संक्रमण से बचाने के आदेश दिए गए हैं.
किसी भी हाल में हरियाणा में लॉकडाउन नहीं

विज ने चंडीगढ़ प्रशाशन द्वारा पंचकूला में रामनवमी पर लॉकडाउन लगाने के मसले पर साफ इनकार किया. उन्होंने कहा कि हरियाणा में कहीं भी लॉकडाउन नहीं लगेगा. उन्होंने कहा कि चंडीगढ़ और पंजाब अपनी चिंता करे. विज ने एकबार फिर पलायन कर रहे मजदूरों को भरोसा दिलाया कि हरियाणा किसी भी सूरत में लॉकडाउन नहीं लगाएगा. उन्होंने कहा कि उनकी सोच है कि उद्योग भी चले और मजदूरों की रोजी-रोटी भी चले.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज