हरियाणा में 24 घंटे के दौरान कोरोना संक्रमण के 10491 नए केस, 60 मरीजों की हुई मौत

हरियाणा में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हुई है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

हरियाणा में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हुई है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

हरियाणा सरकार (Haryana Government) ने कोरोना वायरस (Corona Virus) की स्थिति से निपटने के लिए शनिवार को राज्य के सबसे अधिक प्रभावित छह जिलों में पांच से अधिक लोगों के एकत्रित होने पर रोक लगा दी और कार्यालयों में ‘घर से काम’ (Work From Home) करने प्रणाली शुरू करने का आदेश दिया

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 24, 2021, 11:26 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा में कोरोना वायरस (Corona Virus) विकराल होता जा रहा है. बीते चौबीस घंटे में राज्य में 10,491 नए कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) लोगों की पुष्टि हुई है. इसे मिलाकर अब यहां कुल मामले बढ़कर 4,13,334 हो गए हैं. इस दौरान, शनिवार को 60 लोगों की इस बीमारी के चलते जान चली गई है. वहीं, उपचार के बाद 5,104 लोग कोरोना से ठीक हुए हैं.

इस बीच, हरियाणा सरकार ने कोरोना वायरस की स्थिति से निपटने के लिए शनिवार को राज्य के सबसे अधिक प्रभावित छह जिलों में पांच से अधिक लोगों के एकत्रित होने पर रोक लगा दी और कार्यालयों में ‘घर से काम’ (Work From Home) करने प्रणाली शुरू करने का आदेश दिया. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इस मुद्दे पर एक बैठक की अध्यक्षता करने के बाद संवाददाताओं से कहा कि गुरुग्राम, फरीदाबाद, हिसार, करनाल, सोनीपत और रोहतक के उपायुक्तों को सीआरपीसी की धारा 144 लागू करने के लिए कहा गया है, ताकि कोविड-19 मामलों में बढ़ोतरी को काबू किया जा सके.

उन्होंने हालांकि राज्य में लॉकडाउन लागू करने से एक बार फिर इनकार किया. लेकिन कहा कि सबसे ज्यादा प्रभावित छह जिलों में ‘लॉकडाउन जैसी शर्तें’ होंगी. सीएम खट्टर ने कहा कि सरकारी और निजी कार्यालयों को खोलने की अनुमति नहीं होगी ताकि भीड़ भाड़ से बचा जा सके. उन्होंने कर्मचारियों से अपील की कि कोरोना वायरस संक्रमण की श्रृंखला तोड़ने के लिए ‘घर से काम की संस्कृति’ अपनायें।

मुख्यमंत्री ने राज्य में कार्यक्रमों में लोगों के जुटने पर सख्त पाबंदी लगाते हुए इनडोर और आउटडोर दोनों तरह के समारोहों में 50 लोगों की अधिकतम सीमा तय की. उन्होंने कहा कि अंतिम संस्कार के लिए केवल 20 लोगों को अनुमति दी जाएगी. इससे पहले, खुले में सभाओं की सीमा 500 और भवन के लिए 200 थी. उन्होंने लोगों से विवाह कार्यक्रमों को स्थगित करने के लिए कहा. उन्होंने कहा कि अधिकारी केवल 50 लोगों की सीमा के साथ ही सभाओं की अनुमति देंगे. (भाषा से इनपुट)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज