Chandigarh News: CM विंडो में आई शिकायतों पर हरियाणा सरकार की बड़ी कार्रवाई, कई अधिकारियों पर गिरी गाज

पेनमैन को तुरंत प्रभाव से नौकरी से बर्खास्त करने के आदेश दिए हैं. (फाइल फोटो)

पेनमैन को तुरंत प्रभाव से नौकरी से बर्खास्त करने के आदेश दिए हैं. (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री ने हरियाणा राज्य वेयरहाउसिंग कॉरपोरेशन (Warehousing corporation) के तकनीकी सहायक मंजीत छिकारा को जांच में दोषी पाये जाने पर उनके विरुद्ध तुरंत प्रभाव से विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए हैं

  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Chief Minister Manohar Lal Khattar) के दिशा-निर्देश पर सीएम विंडो पर आने वाली शिकायतों के प्रति लापरवाही बरतने वाले अफसरों और विभिन्न मामलों में दोषी पाए गए अधिकारियों/कर्मचारियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई करते हुए कुछ को सस्पेंड किया गया है. साथ ही कई के खिलाफ चार्जशीट (Chargesheet) करके अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए गए हैं. यह निर्देश सीएम विंडो और सोशल मीडिया ग्रीवेंस ट्रेकर की समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी कार्यक्रम के प्रोजेक्ट डायरेक्टर डॉ. राकेश गुप्ता (Project Director Dr. Rakesh Gupta) एवं मुख्यमंत्री के ओएसडी भूपेश्वर दयाल ने दिए.

डॉ. गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री के सख्त निर्देश है कि भ्रष्टाचार और काम में ढिलाई को किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. उन्होंने सरकार की जीरो टॉलरेंस ऑफ करप्शन की नीति पर जोर दिया. सिवानी मंडी, भिवानी- रिश्वत के मामले में बर्खास्त किया गया कंप्यूटर ऑपरेटर मुख्यमंत्री के ट्विटर पर आई एक शिकायत के अनुसार जब अशोक कुमार, कंप्यूटर ऑपरेटर द्वारा ₹3000 लेकर तथा शिकायत होने पर वापिस करने का मामला संज्ञान में आया तो मुख्यमंत्री ने तुरंत प्रभाव से अशोक कुमार को नौकरी से बर्खास्त करने के आदेश दिए हैं.

वेयरहाउसिंग कॉरपोरेशन

मुख्यमंत्री ने हरियाणा राज्य वेयरहाउसिंग कॉरपोरेशन के तकनीकी सहायक मंजीत छिकारा को जांच में दोषी पाये जाने पर उनके विरुद्ध तुरंत प्रभाव से विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए हैं.
पुलिस विभाग

उधर ट्विटर और यूट्यूब पर वायरल हो रहे एक वीडियो पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने संज्ञान लेते हुए फरीदाबाद में नियुक्त एसआई राम रिछपाल और एसआई रामबीर को तुरंत रूप से निलंबित करने के आदेश दिए हैं.  उन पर आरोप था कि शिकायत करने वाले व्यक्ति को इन्होंने चौकी में बुलाकर बेरहमी से मारपीट की और वीडियो में ऐसा भी कहते सुना गया कि इन्होंने पहले भी एक महिला से झूठी शिकायत मंगवाकर व्यक्ति को झूठे केस में फसाया था.

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग



खाद्य एवं आपूर्ति विभाग सोनीपत में 60 से ज्यादा फर्जी राशन कार्ड बनाए जाने के मामले में मुख्यमंत्री द्वारा संज्ञान लेते हुए संबंधित अधिकारियों और लाभार्थियों के विरुद्ध तुरंत प्रभाव से प्राथमिकी दर्ज करवाकर कानूनी कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं. इसी तरीके से खाद्य एवं आपूर्ति विभाग, कैथल में बोगस राशन कार्ड के मामले में लापरवाही बरतने पर जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक, कैथल को शो-कॉज नोटिस भी जारी किया गया है.

सिंचाई विभाग

पंचकुला जिला में सिंचाई विभाग में बिना न्यूनतम योग्यता एवं फर्जी दस्तावेज के आधार पर नौकरी पाए हुए ज्वाइंट डायरेक्टर राजेश यादव एवं निजी सचिव दीवान चंद, जो कि दोनों काडा विभाग में लगे हुए थे, को तुरंत प्रभाव से निलंबित करने के आदेश मुख्यमंत्री ने दिए हैं. इनके विरूद्ध अन्य कार्रवाई करने के भी आदेश दिए गए हैं.

सहकारिता विभाग

शुगर मिल, कैथल में फर्जी दस्तावेज के आधार पर नौकरी प्राप्त करने के आरोप सिद्ध होने पर मुख्यमंत्री ने विजेंद्र राठी, पेनमैन को तुरंत प्रभाव से नौकरी से बर्खास्त करने के आदेश दिए हैं.

स्थानीय निकाय विभाग

फर्जी दस्तावेज तैयार करके 88 लाख रुपए की निकासी के आरोप में स्थानीय निकाय विभाग के सेक्शन ऑफिसर परमजीत को दोषी पाए जाने पर मुख्यमंत्री ने तुरंत रूप से निलंबित करने के आदेश मुख्यमंत्री ने दिए हैं. एक अन्य शिकायत में फरीदाबाद में स्थानीय निकाय विभाग में चल रहे अवैध आरओ प्लांट को मुख्यमंत्री ने तुरंत सील करवाते हुए जुर्माना करने के आदेश भी दिए हैं. और इसी दरह कई अन्य विभागों में भी मुख्यमंत्री ने कार्रवाई के आदेश दिए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज