कस्टडी में भेजा गया बीजेपी नेता का बेटा, बोला- छेड़छाड़ नहीं की, हम तो बस गाड़ी से जा रहे थे

News18Hindi
Updated: August 10, 2017, 3:28 PM IST
कस्टडी में भेजा गया बीजेपी नेता का बेटा, बोला- छेड़छाड़ नहीं की, हम तो बस गाड़ी से जा रहे थे
HARYANA हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष के बेटे विकास बराला (नीली शर्ट) को दो दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया गया है. photo: gettyimages
News18Hindi
Updated: August 10, 2017, 3:28 PM IST
चंडीगढ़ में आईएएस अफसर की बेटी से छेड़छाड़ के मामले में आरोपी विकास बराला और उसके दोस्त आशीष को गुरुवार को चंडीगढ़ कोर्ट में पेश किया गया. सुनवाई के बाद कोर्ट ने उसे दो दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया.

इस बीच पुलिस पूछताछ में विकास बराला और आशीष ने अपहरण की कोशिश के आरोपों को पूरी तरह से ख़ारिज कर दिया. दोनों को बुधवार को गैरजमानती धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया था.

पत्रकार से बदतमीजी की
पुलिस कस्टडी में ले जाने के दौरान विकास बराला ने मीडियाकर्मियों के साथ बदतमीजी की. उसने फोटो ले रहे एक पत्रकार को हाथ मारकर उसका मोबाइल गिरा दिया. वह तस्वीरें लेने से रोक रहा था.

क्यों भेजा गया कस्टडी में?
कोर्ट ने चंडीगढ़ पुलिस को कहा है कि दो कस्टडी में वर्णिका के साथ हुई घटना को रिक्रिएट करें. वर्णिका जिन स्पॉट्स पर गुज़री वहां उसे ले जाकर सीन दोहराएं. विकास के साथ दूसरे आरोपी और उसके दोस्त आशीष को भी दो दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा गया है.

पुलिस से समन मिलने के बाद दोनों आरोपी सेक्टर-26 पुलिस स्टेशन में पेश हुए थे.




बढ़ेगी बराला की मुश्किल
सूत्रों के मुताबिक मामले के तूल पकड़ने के बाद बुधवार को चंडीगढ़ पुलिस ने छेड़छाड़ के मामले में धारा 365 (अपहरण की कोशिश) और 511 (किसी अपराध को करने की मंशा रखना) को भी जोड़ा है. ये गैर जमानती धाराएं हैं. इस बीच जाट नेता यशपाल मलिक ने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष को पूरे मामले में षडयंत्र रचने के लिए गिरफ्तार करने की मांग की है.

विकास बराला (फोटो : गेट्टी)

किरण ने कहा, लड़के की बात भी सुनें
इससे पहले गिरफ्तारी के बाद बुधवार को चंडीगढ़ से बीजेपी की सांसद किरण खेर ने कहा था, 'मामले में लड़के की भी बात सुनी जानी चाहिए. जैसे लड़की की बात सुनी गई है. दोनों की बात सुनी जानी चाहिए और कोर्ट फैसला करे.'

दोपहर में सुभाष बराला ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस
विकास बराला हरियाणा बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला का बेटा है. सुभाष बराला ने इस मामले पर बुधवार को सीएम खट्टर के करीबी जवाहर यादव के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी. उनकी प्रेस कॉन्फ्रेंस पूरी तरह नाटकीय रही और वो बीच में ही उठकर चले गए. सुभाष बराला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपना रटा-रटाया बयान दिया. इसी बीच उनके एक असिस्टेंट ने उनको फोन पकड़ा दिया और कहा कि विकास बराला का फोन आया है. इसके बाद वह फोन लेकर अंदर चले गए और प्रेस कॉन्फ्रेंस को पूरा बताते खत्म कर दिया गया.

नशे में थे दोनों आरोपी
इससे पहले चंडीगढ़ पुलिस ने कन्फर्म किया कि घटना के वक्त दोनों आरोपी नशे में थे. इस बात की पुष्टि मेडिकल रिपोर्ट में हो गई है. दोनों आरोपियों में एक विकास बराला है. चंडीगढ़ आईजी टी लूथरा के मुताबिक, घटना के बाद पुलिस विकास बराला और उसके दूसरे साथी को मेडिकल के लिए अस्पताल लेकर गई थी, लेकिन उन्होंने ब्लड और यूरिन सैंपल देने से मना कर दिया था. लूथरा ने कहा, आरोपी क़ानून का छात्र है और उसे मालूम था कि वह क्या कर रहा है.

ये भी पढ़ें:-
चंडीगढ़ छेड़छाड़ मामले में बोलीं किरण खेर, लड़के का पक्ष भी सुनना चाहिए
PHOTOS: सुभाष बराला के बेटे विकास ने इस गाड़ी में किया था वर्णिका का पीछा
चंडीगढ़ छेड़खानी केस: पुलिस के सामने विकास बराला की पेशी
First published: August 10, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर