2 से 17 अक्टूबर तक चलेगा स्वच्छ हरियाणा अभियान, सीएम खट्टर पंचकूला से करेंगे शुरुआत

अनिल विज ने दी जानकारी
अनिल विज ने दी जानकारी

Clean Haryana campaign: इस स्वच्छता पखवाड़े के दौरान राज्य में सीवरों व नालों की सफाई तथा कचरे के लिए निपटान के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा.

  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा में शुक्रवार 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के मौके पर स्वच्छ हरियाणा अभियान (Clean Haryana campaign) शुरू किया जाएगा, जो 17 अक्टूबर तक चलेगा. इस दौरान प्रदेश की सभी नालियां, सीवरेज, कूड़ा करकट की सफाई और स्ट्रीट लाइट की मरम्मत का काम किया जाएगा. इस अभियान में पब्लिक हेल्थ हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण विभाग और हरियाणा राज्य औद्योगिक संजना विकास विभाग भी हिस्सा लेंगे.

अभियान के तहत स्वच्छ हरियाणा एप्लीकेशन बनाई गई है. जो जीपीएस आधारित है. इस पर हरियाणा के किसी भी नगर पालिका, नगर निगम या नगर समिति में कहीं पर भी गंदगी सीवरेज जाम या स्ट्रीट लाइट टूटी हुई मिलती है तो आम आदमी उसकी फोटो खींचकर एप्लीकेशन पर अपलोड कर देंगे. इसके बाद अगले 3 घंटे में वहां की सफाई कर दी जाएगी. यदि स्ट्रीट लाइट को लेकर कोई दिक्कत है तो इस समस्या को अगले 24 घंटे में दुरुस्त कर दिया जाएगा.

वीरवार को चंडीगढ़ में हरियाणा के शहरी निकाय मंत्री अनिल विज ने इस एप्लीकेशन की शुरुआत की. इस मौके पर उन्होंने कहा कि यदि संबंधित ठेकेदार सीवरेज और गंदगी संबंधी शिकायत को 3 घंटे में दूर नहीं करता है तो उसके ऊपर ₹50 प्रति फोटो प्रतिदिन के हिसाब से जुर्माना लगाया जाएगा. यदि कुल जुर्माना ठेके की कुल राशि के 10 परसेंट को पार कर जाता है तो उसका ठेका रद्द भी कर दिया जाएगा.



सीएम खट्टर पंचकूला से करेंगे शुरुआत
अनिल विज ने बताया कि शुक्रवार को 2 अक्टूबर से शुरू हो शुरू होने वाले स्वच्छ हरियाणा अभियान की शुरुआत पंचकूला से मुख्यमंत्री मनोहर लाल करेंगे. अभियान में सामाजिक संस्थाएं, हाउसिंग सोसाइटीज को भी शामिल किया जाएगा. अनिल विज ने बताया कि अभियान के तहत प्रदेश के सभी निकायों में 5100 इलाकों की पहचान की गई है. हर इलाके का एक सुपरवाइजर भी नियुक्त किया गया है.

सड़क किनारे पड़ी गंदगी का भी किया जाएगा समाधान

अभियान के तहत मरे हुए पशुओं,  सार्वजनिक शौचालय में गंदगी नालों की सफाई और सड़क के किनारे पड़ी गंदगी का भी समाधान किया जाएगा. निकाय मंत्री ने बताया कि 17 अक्टूबर के बाद यह अभियान प्रदेश के सभी निकायों में भी जारी रहेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज