Assembly Banner 2021

Haryana News: भूपेंद्र सिंह हुड्डा का ऐलान, BJP-JJP सरकार के खिलाफ कांग्रेस लाएगी अविश्वास प्रस्ताव

कांग्रेस ने हरियाणा सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

कांग्रेस ने हरियाणा सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) ने राज्‍य की भाजपा-जजपा सरकार (BJP-JJP Government) के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का ऐलान किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 4, 2021, 11:13 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) ने अपने चंडीगढ़ स्थित आवास पर आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक ली. इसके बाद उन्‍होंने कहा कि आज हरियाणा की जनता के सामने समस्‍याओं और कांग्रेस के सामने मुद्दों का अंबार लगा हुआ है. इस वजह से कांग्रेस राज्‍य की मनोहर लाल खट्टर सरकार (Manohar Lal Khattar Government) के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव, एमएसपी गारंटी बिल, कई स्‍थगन और ध्‍यानाकर्षण प्रस्‍ताव लाने जा रही है. इसके साथ भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि भाजपा और जजपा सरकार से किसानों की अनदेखी, बढ़ती बेरोजगारी, बढ़ते अपराध, पेपर लीग शराब और रजिस्‍ट्री घोटाले जैसे मुद्दों पर जवाब मांगा जाएगा. बता दें कि 5 मार्च से हरियाणा का बजट सत्र शुरू हो रहा है और इस सत्र में कांग्रेस भाजपा-जजपा (BJP-JJP) को घेरने का कोई मौका छोड़ना नहीं चाहती है.

इसके अलावा भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस बजट सत्र के पहले दिन यानी 5 मार्च को स्‍पीकर को अविश्वास प्रस्ताव दे देगी. इसके बाद वो तय करेंगे कि इस पर कब चर्चा और वोटिंग होनी है. इसके साथ उन्‍होंने राज्‍य सरकार पर आरोप लगाया कि यह सरकार आम जनता के साथ किसानों के मुद्दे पर चुप है, लेकिन कांग्रेस उसे सदन में आईना दिखाने का काम करेगी. साथ ही कहा कि किसानों को एमएसपी का अधिकार दिलवाने के लिए एपीएमसी एक्‍ट में संशोधन के लिए कांग्रेस एक प्राइवेट मेंबर बिल लेकर आएगी. वहीं, उन्‍होंने हरियाणा के प्राइवेट सेक्‍टर में 75 फीसदी स्‍थानीय युवाओं को नौकरी वाले खट्टर सरकार के बिल को धोखा करार दिया है.

इससे पहले भी हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा कई बार अविश्वास प्रस्ताव लाने का की बात कह चुके हैं. हालांकि इसको लेकर हरियाणा गृह मंत्री अनिल विज ने उनक पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा था कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा पहले अपने पार्टी का विश्वास हासिल करें. उनकी पार्टी का साथ उनके पास नहीं है. एक राइट मुंह कर के बैठता है तो दूसरा अपना मुंह लेफ्ट में रखता है. यही नहीं, उनके लोग एक साथ मंच साझा नहीं करते. साथ ही दावा किया कि हुड्डा जो करना चाहें कर सकते हैं, लेकिन वह चारो खाने चित होंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज