Home /News /haryana /

domestic violence in chandigarh beat up daughter in law for speaking punjabi husband tried to kill by burning petrol ssp

पंजाबी बोलने पर पत्नी को पीटता था पति, फिर पेट्रोल डाल जलाकर मारने की कोशिश की, जानें पूरा मामला

चंडीगढ़ में एक लड़की और उसके परिवार ने ससुराल पक्ष पर गंभीर आरोप लगाते हुए पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है.

चंडीगढ़ में एक लड़की और उसके परिवार ने ससुराल पक्ष पर गंभीर आरोप लगाते हुए पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है.

Haryana Crime News: चंडीगढ़ में एक लड़की और उसके परिवार ने ससुराल पक्ष पर गंभीर आरोप लगाते हुए पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. ससुराल वालों ने लड़की को पेट्रोल डाल जलाकर मारने की कोशिश की, जिसमें वह पूरी तरह से जल चुकी थीं और 3 महीने से ज्यादा समय तक वेंटिलेटर पर रही. बाहर आने के बाद पीड़िता सुजाता ने अपनी दर्दनाक कहानी पुलिस के सामने उजागर की है.

अधिक पढ़ें ...

    चंडीगढ़. हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ में एक लड़की और उसके परिवार ने ससुराल पक्ष पर गंभीर आरोप लगाते हुए पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. ससुराल वालों ने लड़की को पेट्रोल डाल जलाकर मारने की कोशिश की, जिसमें वह पूरी तरह से जल चुकी थीं और 3 महीने से ज्यादा समय तक वेंटिलेटर पर रही. इसके बाद अब ठीक होकर आई पीड़िता सुजाता ने न्यूज़18 से अपनी दर्दनाक कहानी साझा की है.

    सुजाता और उसका परिवार ने बताया कि 8 जनवरी 2022 को लालरू में सुजाता के पति जोकि मर्चेंट नेवी में चीफ इंजीनियर के पद पर हैं, उन्होंने सुजाता को जलाकर मारने की कोशिश की, लेकिन करीब तीन से चार महीने वेंटिलेटर पर रहकर ठीक होकर बाहर आई सुजाता ने न्याय की गुहार लगाई है.

    Haryana Crime News, चंडीगढ़ में घरेलू हिंसा, पंजाबी बोलने पर रोक, बहू की पिटाई,  मर्चेंट नेवी, पति, पेट्रोल डाल मारने की कोशिश,  तीन महीने वेंटिलेटर में, चंडीगढ़ पुलिस, पुलिस केस, चंडीगढ़ हरियाणा न्यूज़, Domestic violence in Chandigarh, ban on speaking Punjabi, beating of daughter-in-law, Merchant Navy, husband, tried to kill by pouring petrol, Three months in ventilator, Chandigarh Police, Police Case, Chandigarh Haryana News

    चंडीगढ़ में एक लड़की ने ससुराल और पति पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि पति ने मुझे पेट्रोल डाल जलाकर मारने की कोशिश की.

    घर में पंजाबी बोल दूं तो बवाल और मारपीट करते थे 

    हैरानी की बात की पुलिस ने मामला तो दर्ज कर लिया लेकिन अभी तक कोई भी गिरफ्तारी इस मामले में नहीं हुई है. सुजाता ने बताया कि 2011 में उसकी शादी हुई थी और अभी भी वह गर्भवती है और उसके पेट में 2 बच्चे पल रहे हैं और पहले से भी एक 6 साल का बेटा है.

    ससुराल पक्ष वालों का शुरू से ही उसके साथ बर्ताव बहुत ही गलत था, मुझे अलग से कहीं भी लेकर नहीं जाया जाता था. अगर मैं गलती से पंजाबी में बात कर लेती थी तो समझो उसी दिन बवाल और मारपीट शुरू हो जाती थी. ससुराल वाले कहते थे कि पंजाबी में बात नहीं करनी है. ससुराल पक्ष क्योंकि गुप्ता परिवार से हैं, उनका कहना था कि इस घर में पंजाबी नहीं बोलने दी जाएगी.

    चंडीगढ़ में घरेलू हिंसा, पंजाबी बोलने पर रोक, बहू की पिटाई,  मर्चेंट नेवी, पति, पेट्रोल डाल मारने की कोशिश,  तीन महीने वेंटिलेटर में, चंडीगढ़ पुलिस, पुलिस केस, चंडीगढ़ हरियाणा न्यूज़, Domestic violence in Chandigarh, ban on speaking Punjabi, beating of daughter-in-law, Merchant Navy, husband, tried to kill by pouring petrol, Three months in ventilator, Chandigarh Police, Police Case, Chandigarh Haryana News

    चंडीगढ़ में घरेलू हिंसा का बड़ा मामला सामने आया है. जिसमें बहू ने परिवार पर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं.

    पति का किसी और लड़की के साथ अफेयर था

    पीड़िता सुजाता ने बताया कि छोटी-छोटी बातों पर मारपीट की जाती थी उनके पति जो मर्चेंट नेवी में है, उनका कहीं बाहर किसी लड़की के साथ अफेयर था. जिसका एफआईआर में मैंने नाम भी दिया है. पीड़ित के भाई जो कि सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं, उन्होंने बताया कि जनवरी से लेकर अब मई शुरू हो चुका है. रोजाना पुलिस के चक्कर काटते हैं, लेकिन पुलिस ने आज तक कोई भी अरेस्टर कोई भी चार्ज इस मामले में नहीं किया है.

    इस बाबत न्यूज18 ने पंजाब राज्य महिला आयोग चेयरपर्सन से फोन पर जब बातचीत की गई तो मनीषा गुलाटी ने कहा कि उन्होंने एसएसपी से इस संबंध में सारी रिपोर्ट मांग ली है और न्यूज़18 के जरिए इन्हें आश्वासन देते हैं कि इनके साथ जल्द से जल्द इंसाफ होगा.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर