जम्मू-कश्मीर और हरियाणा में भूकंप के झटके, झज्जर था केंद्र

दो दिन पहले राजधानी दिल्ली में भी लगातार दो दिन लगातार भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे. इसका सेंटर भी मेरठ और हरियाणा बॉर्डर के आस-पास था.

News18Hindi
Updated: September 12, 2018, 10:59 AM IST
जम्मू-कश्मीर और हरियाणा में भूकंप के झटके, झज्जर था केंद्र
सांकेतिक तस्वीर
News18Hindi
Updated: September 12, 2018, 10:59 AM IST
जम्मू-कश्मीर और हरियाणा में बुधवार सुबह कम तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए. जम्मू कश्मीर में सुबह 05:15 बजे रिएक्टर स्केल 4.6 तीव्रता का भूकंप महसूस किया गया. उधर हरियाणा में भूकंप का केंद्र झज्जर बताया जा रहा है. यहां भी सुबह 05:43 बजे रिएक्टर स्केल 3.1 तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए.

दो दिन पहले राजधानी दिल्ली में भी लगातार दो दिन भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे. इसका सेंटर भी मेरठ और हरियाणा बॉर्डर के आस-पास था.

 



 



सोमवार को भी झज्जर और दिल्ली में महसूस हुए थे भूकंप के झटके
हरियाणा के झज्जर जिले में सोमवार को मध्यम तीव्रता का भूकंप आया था. इससे 24 घंटे पहले भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) ने बताया कि भूकंप सोमवार सुबह 6 बजकर 28 मिनट पर महसूस किया गया, इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.7 मापी गई. इसका केंद्र सतह से 10 किलोमीटर की गहराई में था, भूकंप के झटके राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी महसूस किए गए. इसी इलाके में रविवार को मध्य तीव्रता का एक और भूकंप आया था.

भूकंपीय क्षेत्र चार में आते हैं दिल्ली और आसपास के इलाके
एनसीएस के निदेशक विनीत कुमार गहलौत ने बताया कि दिल्ली और आसपास के इलाके भूकंपीय क्षेत्र चार में आते हैं. उन्होंने बताया, "यही कारण है कि हम रोहतक, झज्जर, सोहना, पानीपत में छोटे और मध्यम तीव्रता के भूकंप आते हैं और इसका प्रभाव दिल्ली पर महसूस किया जाता है." देश में हिमालयी क्षेत्र, पूर्वोत्तर और अंडमान निकोबार द्वीपसमूह देश के भूकंपीय क्षेत्र पांच में आते हैं,
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर