• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • खापों की तालाबंदी के ऐलान पर भड़के शिक्षा मंत्री, बोले- कानून से ऊपर जाकर गेस्ट टीचर्स की मदद नहीं कर सकते

खापों की तालाबंदी के ऐलान पर भड़के शिक्षा मंत्री, बोले- कानून से ऊपर जाकर गेस्ट टीचर्स की मदद नहीं कर सकते

शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने गेस्ट टीचर्स के समर्थन में खापों की ओर से की गई तालाबंदी का कड़ा विरोध किया है.

शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने गेस्ट टीचर्स के समर्थन में खापों की ओर से की गई तालाबंदी का कड़ा विरोध किया है.

शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने गेस्ट टीचर्स के समर्थन में खापों की ओर से की गई तालाबंदी का कड़ा विरोध किया है.

  • Share this:
शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने गेस्ट टीचर्स के समर्थन में खापों की ओर से की गई तालाबंदी का कड़ा विरोध किया है.

चंडीगढ़ में मीडिया से बातचीत में रामबिलास शर्मा ने गेस्ट टीचरों के महेनद्रगढ़ में विरोध प्रदर्शन पर कड़ी आपत्ति जताई है. उन्‍होंने कहा कि इस में आंदोलन कांग्रेस और इनेलो साजिश के तहत राजनीति कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि महेन्द्रगढ़ प्रशासन की ओर से गेस्ट टीचर के प्रदर्शन के दौरान अश्लील हरकतें करने की भी शिकायतें आ रही हैं.

गेस्ट टीचर्स के उग्र होते आंदोलन पर सरकार अब सख्त रुख अख्तियार करती नजर आ रही है. सूबे के शिक्षा मंत्री ने साफ कर दिया है कि कानून और संविधान से ऊपर जाकर वो गेस्ट टीचर्स की कोई मदद नहीं कर सकते. शिक्षा मंत्री शर्मा ने कहा कि खापों का इस मामले से कोई लेना-देना नहीं है, लेकिन उसके बावजूद खाप स्कूलों में तालाबंदी कर रही है जोकि गलत है.

शिक्षा मंत्री ने गेस्ट टीचर्स पर महेन्द्रगढ़ में प्रदर्शन के दौरान अश्लील हरकतें करने के आरोप लगाए. उन्होंने कहा कि गेस्ट टीचर प्रदर्शन के दौरान बाबा रामदेव की मिमिक्री करते हैं और वहां के लोग भी प्रदर्शन से परेशान हैं.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस और इनेलो प्रदेश में बीजेपी की पूर्ण बहुमत की सत्ता से परेशान हैं, इसलिए ऐसे मामलों में राजनीति कर रहे हैं. पत्रकारों के सवालों के दौरान कैबिनेट मंत्री रामबिलास शर्मा ने प्रदेश में बेलगाम होती अफसरशाही पर कहा कि जल्द ही ब्यूरोक्रेटस को लेकर स्थिति काबू में की जाएगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज