लाइव टीवी

Haryana Election Results: त्रिशंकु विधानसभा की तरफ बढ़ रहा हरियाणा, अब बन सकती हैं ये तीन परिस्थितियां

News18 Haryana
Updated: October 24, 2019, 1:37 PM IST
Haryana Election Results: त्रिशंकु विधानसभा की तरफ बढ़ रहा हरियाणा, अब बन सकती हैं ये तीन परिस्थितियां
हरियाणा में त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति बन रही है और इस कारण दुष्यंत चौटाला सबसे महत्वपूर्ण हो गए हैं.

Haryana Assembly Election Results 2019: अब तक की गिनती के बाद साफ हो चुका है कि हरियाणा (Haryana) त्रिशंकु विधानसभा (Hung Assembly) की तरफ बढ़ रहा है. कोई भी पार्टी बहुमत के जादुई आंकड़े को छूती हुई नजर नहीं आ रही है. ऐसे में राज्य में तीन स्थितियां बनती हुई नजर आ रही हैं.

  • Share this:
चंडीगढ़. अब तक की गिनती के बाद साफ हो चुका है कि हरियाणा (Haryana) त्रिशंकु विधानसभा (Hung Assembly) की तरफ बढ़ रहा है. कोई भी पार्टी बहुमत के जादुई आंकड़े को छूती हुई नजर नहीं आ रही है. 10 साल पहले भी हरियाणा में कुछ इसी तरह की स्थिति थी. 2009 में भूपिंदर सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) के नेतृत्व में चुनाव लड़ रही कांग्रेस (Congress) 45 सीट नहीं जीत पाई थी और बहुजन समाज पार्टी (BSP) से सहयोग लेकर राज्य में पार्टी को सरकार बनानी पड़ी थी.

हरियाणा में अबतक हुई गिनती में बीजेपी 36, कांग्रेस 33, जेजेपी 12, आईएनएलडी 2 और अन्य 7 सीटों पर आगे चल रहे हैं. 2014 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 47 सीटों पर जीत मिली थी जबकि कांग्रेस को 15 और आईएनएलडी को 20 सीटों पर जीत मिली थी. आईएनएलडी से अलग होकर बनी जेजेपी ने इस चुनाव में अच्छा प्रदर्शन किया है और अब दुष्यंत चौटाला किंग मेकर की भूमिका में हैं.

वर्तमान हालात को देखते हुए हरियाणा में तीन परिस्थितियां बनती हुई नजर आ रही हैं. अब देखने वाली बात होगी कि इन तीनों में से किस पर अंतिम मुहर लगती है. आइए जानते हैं, उन तीन परिस्थितियों के बारे में...

बीजेपी की बनेगी सरकार

अगर बीजेपी बहुमत के आंकड़े से एक-दो सीट दूर रहती है तो वो सरकार बनाने के लिए आईएनएलडी का समर्थन ले सकती है. आईएनएलडी दो सीटों पर बढ़त बनाए हुए है. इसके अलावा वो निर्दलीय व अन्य विधायकों से समर्थन मांग सकती है. वहीं अगर बहुमत का आंकड़ा दूर रह जाता है तो पार्टी जेजेपी से गठबंधन करने की कोशिश भी करेगी.

कांग्रेस की बनेगी सरकार
कांग्रेस को हरियाणा में सरकार बनाने के लिए हर हाल में जेजेपी को साथ लेना पड़ेगा. इसके साथ ही उन्हें आईएनएलडी और अन्य विधायकों से भी समर्थन की जरूरत पड़ेगी. सबकुछ सीएम पद पर निर्भर करता है. कहा जा रहा है कि जेजेपी उसी का समर्थन करेगी जो दुष्यंत चौटाला को सीएम पद का ऑफर करेगा.
Loading...

हरियाणा के मुख्यमंत्री के तौर पर दुष्यंत चौटाला
बीजेपी और कांग्रेस दोनों दल एक दूसरे को सत्ता से बाहर रखने के लिए किंग मेकर दुष्यंत चौटाला को सीएम पद का ऑफर दे सकते हैं. अगर ऐसा होता है तो ये कर्नाटक वाली स्थिति होगी. कर्नाटक में कम सीट पाने के बाद भी जेडीएस को मुख्यमंत्री पद मिला था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 24, 2019, 1:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...