अपना शहर चुनें

States

किसान आंदोलन: हरियाणा ने पंजाब से लगती सीमाओं को 2 दिन के लिए किया सील

सीएम खट्टर ने किसानों से की ये अपील
सीएम खट्टर ने किसानों से की ये अपील

कृषि कानूनों के विरोध में कई राज्यों के किसानों ने 26 और 27 नवंबर को दिल्ली में प्रदर्शन की दी है चेतावनी. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल (CM Manohar Lal) ने कहा कि कोरोना काल में किसानों का दिल्ली कूच करना ठीक नहीं है.

  • Share this:
चंडीगढ़. तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आगामी गुरुवार को दिल्ली में होने वाले किसान आंदोलन को लेकर हरियाणा सरकार (Haryana Government) ने पूरी तैयारी कर ली है. सुबह में आज पुलिस ने एहतियात के तौर पर कुछ किसान नेताओं की गिरफ्तारी भी की है. चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने लोगों से अपील की है कि वह 25 नवंबर से लेकर 27 नवंबर तक के बीच बॉर्डर एरिया में जाने से बचें. क्योंकि 25 और 26 नवंबर को पंजाब से लगते हरियाणा के सभी बॉर्डर सील रहेंगे. वहीं 26 और 27 नवंबर को हरियाणा-दिल्ली के बीच की सीमाएं सील रहेंगे.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि कोरोना काल में किसानों का दिल्ली कूच करना ठीक नहीं है. इसलिए सरकार ने कानून व्यवस्था बनाए रखने को लेकर कुछ सख्त कदम उठाए हैं. मुख्यमंत्री ने किसानों से अपील की है कि वे इस अर्थहीन आंदोलन में शिरकत ना करें. क्योंकि तीन कृषि कानून किसानों के हित में है.

न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद जारी रखेगी सरकार
सीएम ने कहा कि जो लोग यह कह रहे हैं कि इन कानूनों के लागू हो जाने के बाद भविष्य में मंडियां खत्म हो जाएंगी और एमएसपी खत्म हो जाएगा, ऐसा कुछ नहीं होने वाला है. हरियाणा सरकार प्रदेश में मंडियों की संख्या में बढ़ोतरी करेगी. इसके अलावा केंद्र की तरफ से एमएसपी पर खरीदी जाने वाली फसलों के अलावा भी हरियाणा सरकार बाजरा, सरसों, मूंग, और मूंगफली आदि की राज्य न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद जारी रखेगी.
किसानों से की ये अपील


मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि कुछ लोग निजी स्वार्थों को पूरा करने के लिए किसानों को बहकाने का काम कर रहे हैं. सीएम ने किसानों से 'दिल्ली चलो' आह्वान के अपने प्रस्ताव को राज्यहित में वापिस लेने की अपील की है. उन्होंने किसानों से 'दिल्ली चलो' आह्वान के अपने प्रस्ताव को राज्यहित में वापिस लेने का आग्रह किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज