गुरुग्राम: केंद्रीय मंत्रालय में नौकरी दिलवाने के नाम पर बेरोजगार युवकों से ठगी, मास्टरमाइंड गिरफ्तार

बेरोजगारों से फर्जीवाड़ा
बेरोजगारों से फर्जीवाड़ा

पुलिस की मानें तो गिरफ्तार मास्टरमाइंड (Mastermind) की पहचान चंद्रभूषण पांडे के तौर पर हुई है, जो कि बेरोजगार युवकों को मंत्रालय में नौकरी (Job) दिलवाने के नाम पर 27 हज़ार रुपये की फीस वसूल कर युवकों से ठगी को अंजाम दे रहा था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 20, 2020, 11:28 AM IST
  • Share this:
गुरुग्राम. पुलिस ने केंद्रीय मंत्रालय में नौकरी दिलवाने के नाम पर फर्जीवाड़ा करने और ठगी का खुलासा किया है. दरअसल पुलिस (Police) को केंद्रीय कृषि एवं कल्याण मंत्रालय द्वारा शिकायत दी गई थी कि सेक्टर 31 के एक मकान से मंत्रालय में नौकरी (Job) के नाम पर फर्जीवाड़े को अंजाम दिया जा रहा है. पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद सेक्टर 31 के इस मकान पर रेड कर फर्जीवाड़े का खुलासा कर दिया. पुलिस की मानें तो इस रेड के दौरान यूपी के रहने वाले मास्टरमाइंड को भी गिरफ्तार किया गया है. बहरहाल मामले की तफ्तीश की जा रही है.

पुलिस की मानें तो गिरफ्तार मास्टरमाइंड की पहचान चंद्रभूषण पांडे के तौर पर हुई है, जो कि बेरोजगार युवकों को मंत्रालय में नौकरी दिलवाने के नाम पर 27 हज़ार रुपये की फीस वसूल कर युवकों से ठगी को अंजाम दे रहा था. एसीपी क्राइम की मानें तो शुरुआती पूछताछ में आरोपी ने खुलासा किया है कि इससे पहले वह लखनऊ में भी इसी तरफ के फर्जीवाड़े और ठगी की वारदात को अंजाम दे चुका है.

सेक्टर 31 के मकान नंबर 140 पर पुलिस की रेड के दौरान भी 6 युवक इसके झांसे में आने के बाद ट्रेनिंग कर रहे थे. फिलहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया. पुलिस की माने तो मार्च-2020 में मकान नंबर 140, सेक्टर-31, गुरुग्राम को किराए पर लेकर इसमें केंद्रीय कृषि विकास संस्थान के नाम से संस्था खोली थी.



इस संस्था में यह बेरोजगार युवकों को कृषि विभाग में मोटी सैलरी की नौकरी दिलाने के नाम पर आकर्षित करता है और नौकरी दिलाने के नाम पर उन्हें ट्रेनिंग देता है, जिसके लिए यह 27 हजार रुपये प्रति महीने के हिसाब से 1 व्यक्ति से वसूलता है. संस्था में दाखिले के लिए यह विज्ञापन देता था. वर्तमान में इसकी संस्था में 6 लड़के इसके झांसे में आकर इससे ट्रेनिंग ले रहे थे. फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज