लाइव टीवी

हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष चुने गए ज्ञानचंद गुप्ता, दुष्यंत ने उनके नाम का रखा था प्रस्ताव

भाषा
Updated: November 4, 2019, 10:04 PM IST
हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष चुने गए ज्ञानचंद गुप्ता, दुष्यंत ने उनके नाम का रखा था प्रस्ताव
ज्ञानचंद गुप्ता के नाम का अनुमोदन उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने किया था (File Photo)

हरियाणा विधानसभा (Haryana Assembly) का अध्यक्ष चुने गए ज्ञानचंद गुप्ता (Gian Chand Gupta) ने कांग्रेस के उम्मीदवार और पूर्व मुख्यमंत्री भजन लाल के पुत्र चन्द्र मोहन बिश्नोई को चुनाव में पराजित किया था.

  • Share this:
चंडीगढ़. भाजपा (BJP) विधायक ज्ञानचंद गुप्ता (Gian Chand Gupta) को सोमवार को सर्वसम्मति से हरियाणा विधानसभा (Haryana Assembly) का अध्यक्ष चुना गया. कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता भूपेन्द्र सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) सदन में नेता प्रतिपक्ष होंगे. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने पंचकूला के विधायक गुप्ता के नाम का प्रस्ताव दिया और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने उनके नाम का प्रस्ताव दिया था. विपक्षी सदस्यों ने भी गुप्ता का समर्थन किया.

ज्ञानचंद गुप्ता ने सदन को बताया कि उपाध्यक्ष का चुनाव बाद में किया जाएगा. उन्होंने बताया कि हुड्डा को सदन में ‘विपक्ष के नेता के रूप में मान्यता दी गई है.’ हुड्डा को हाल में राज्य में उनकी पार्टी ने कांग्रेस विधायक दल का नेता चुना था.

बता दें, विधानसभा चुनाव में ज्ञानचंद गुप्ता ने कांग्रेस के उम्मीदवार और पूर्व मुख्यमंत्री भजन लाल के पुत्र चन्द्र मोहन बिश्नोई को पराजित किया था.

इससे पूर्व अस्थायी अध्यक्ष (प्रोटेम स्पीकर) रघुबीर सिंह कादियान ने खट्टर, दुष्यंत और अन्य विधायकों को शपथ दिलाई. दुष्यंत, राम कुमार गौतम, राजिन्दर सिंह, चिरंजीव राव, जगबीर सिंह मलिक और बिशेन लाल सैनी उन विधायकों में शामिल हैं, जिन्होंने अंग्रेजी में शपथ ली. जबकि कमल गुप्ता समेत तीन सदस्यों ने संस्कृत में शपथ ली. भाजपा विधायक संदीप सिंह ऐसे एकमात्र विधायक थे, जिन्होंने पंजाबी में शपथ ली.

खट्टर और दुष्यंत के बाद कादियान ने नौ महिला सदस्यों को शपथ दिलाई. इन महिला सदस्यों में भाजपा की तीन, कांग्रेस की पांच और जननायक जनता पार्टी की एकमात्र महिला विधायक और दुष्यंत चौटाला की मां नैना चौटाला शामिल हैं.

राज्य की 90 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के 40 विधायक हैं, उसकी सहयोगी जननायक जनता पार्टी (जजपा) के 10, कांग्रेस के 31, इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) और हरियाणा लोकहित पार्टी (एचएलपी) के एक-एक विधायक हैं जबकि निर्दलीय विधायकों की संख्या सात है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 9:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...