Home /News /haryana /

goonga pehlwan qualified for deaf olympics tweeted and asked for money like para players hrrm

हरियाणा: गूंगा पहलवान ने डेफ ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया, ट्वीट कर CM से मांगी इन खिलाड़ियों की तरह धनराशि

डेफ ओलंपिक में ट्वीट करने के बाद गूंगा पहलवान ने किया ट्वीट

डेफ ओलंपिक में ट्वीट करने के बाद गूंगा पहलवान ने किया ट्वीट

Goonga Pehlwan: गूंगा पहलवान पैरा ओलिंपिक खिलाड़ियों के बराबर डेफ खिलाड़ियों को सम्मान व राशि देने की मांग कर रहे हैं. इसके लिए वे दिल्ली में हरियाणा भवन और हरियाणा विधानसभा के बाहर धरना देकर रोष भी जता चुके हैं.

चंडीगढ़. हरियाणा के गूंगा पहलवान (Goonga Pehlwan) ने डेफ ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर लिया है. गूंगा पहलवान का असली नाम वीरेंद्र सिंह है. लेकिन वो गूंगा पहलवान के नाम से जाने जाते है. उन्होंने खुद ट्वीट करके डेफ ओलंपिक में क्वालीफाई करने की जानकारी दी. वहीं उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) से तैयारी करने के लिए धनराशि भी मांगी है.

गूंगा पहलवान ने अपने ट्वीट में लिखा है कि आपके आशीर्वाद से मैंने पांचवें डेफ़ ओलंपिक के लिए क्वालीफ़ाई कर लिया है. हरियाणा से 14 खिलाड़ी और है जिन्होंने क्वालीफ़ाई किया है. अतःमुख्यमंत्री जी से अनुरोध है क्वालीफ़ाई करने पर जो पैरा खिलाड़ियों को राशि दी जाती हमें भी प्रदान की जाए, ताकि हम भी अपनी तैयारी और बेहतर कर सके.

सीएम से कहा था- क्या मैं पाकिस्तान से हूं

बता दें कि पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित मुकबाधिर पहलवान वीरेंद्र सिंह उर्फ गूंगा पहलवान ने जनवरी माह में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को टैग कर एक ट्वीट किया था. गूंगा पहलवान ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर  से राज्य के बधिर खिलाड़ियों को पैरा-एथलीट के रूप में मान्यता देने की मांग करते हुए ट्वीट किया था. गूंगा पहलवान ने ट्वीट में लिखा है कि माननीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी क्या मैं पाकिस्तान से हूं, कब बनेगी कमेटी, कब मिलेंगे समान अधिकार इसके अलावा उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग करते हुए लिखा था .प्रधानमंत्री जी, जब मैं आपसे मिला, आपने ही कहा था हम आपके साथ अन्याय नहीं होने देंगे, अब आप ही देख लो.

पंकज नैन ने दिया था जवाब

वहीं गूंगा पहलवान के इस ट्वीट का जवाब हरियाणा खेल के निदेशक पंकज नैन ने दिया था. उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा 1.20 करोड़ का नकद पुरस्कार दिया जा चुका है, जो देश में सबसे अधिक है. वह पहले से ही खेल विभाग हरियाणा में कार्यरत है। उन्हें पैरालिंपियन के समान ग्रुप बी पोस्ट की पेशकश की गई थी, जिसे उन्होंने लेने से इनकार कर दिया.

Tags: CM Manohar Lal Khattar, Haryana news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर