लाइव टीवी

पराली जलाने से रोकने के लिए सरकार देगी 90 हजार किसानों को पैसे, ये है शर्त

News18 Haryana
Updated: November 8, 2019, 12:01 PM IST
पराली जलाने से रोकने के लिए सरकार देगी 90 हजार किसानों को पैसे, ये है शर्त
पराली जलाने की समस्या से निजात के लिए हरियाणा सरकार ने उठाया कदम

हरियाणा सराकर पराली जलाने (stubble burning) से रोकने के लिए राज्य के 90 हजार किसानों (Farmers) को 100 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से पैसै देगी.

  • Share this:
चंडीगढ़. पराली जलाने  (stubble burning) के मामले में सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद हरकत में आई हरियाणा सरकार ने पर्यावरण (Environment)  को नुकसान पहुंचाने वाले इस काम से रोकने के लिए किसानों (Farmers) को पैसे देने का निर्णय लिया है. हरियाणा की मुख्य सचिव की अध्यक्षता में कृषि विभाग और पर्यवारण विभाग के अधिकारियों की बैठक में यह निर्णय लिया गया. बैठक के बाद कृषि विभाग के एसीएस संजीव कौशल ने इसकी जानकारी दी.

5 एकड़ से कम जमीन वाले किसान ही ले पाएंगे लाभ 

इसके तहत हरियाणा सरकार ने छोटे किसानों और गैर बासमती चावल उगाने वाले किसानों को 100 रुपए प्रति क्विंटल सहायता देने का फैसला किया है. इसका लाभ प्रदेश के 5 एकड़ से कम ज़मीन वाले किसान ही ले पाएंगे. सरकार की इस शर्त के तरह लगभग 90 हजार किसानों को लाभ होगा. उन्होंने कहा कि हमारे पास सभी किसानों की ज़मीन और उनके बैंक खातों की जानकारी है. उसके अनुसार करीब 90 हजार किसान इससे लाभान्वित होंगे.

पंजाब की तुलना में हरियाणा में बहुत कम हैं पराली जलाने के मामले 



एसीएस ने संजीव कौशल ने दी सरकार के निर्णय की जानकारीएसीएस संजीव कौशल ने कहा कि हरियाणा में पराली जलाने के मामले कम हैं. हमारे यहां एक दिन पहले 180 पराली जलाने के मामले सामने आए थे जबकि पंजाब में 8 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं. हरियाणा में गुरुवार को सिर्फ दो जगह पराली जलाने के मामले सामने आए हैं. प्रशासनिक सचिवों को जिलों में नियुक्त किया गया है. ये अधिकारी सरकार की पराली से संबंधित योजनाओं को देखेंगे. ये यह भी देखने का काम करेंगे कि जो पराली है उनको गत्ता बनाने वाली या बायो मास बनाने वाली किस कंपनी दो दिया जाना है.

ये भी पढ़ें- हनीप्रीत डेरा के लीगल सेल के लोगों से कर रही है लगातार मीटिंग
Loading...

अभय चौटाला अनाज मंडी में बोले - सीएम को किसानों के लिए फुर्सत नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 8, 2019, 11:27 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...