होम /न्यूज /हरियाणा /गुरुग्रामः 20 वर्षीय युवक की संदिग्ध मौत, झोलाछाप डॉक्टर शव रोड पर फेंक हुए फरार

गुरुग्रामः 20 वर्षीय युवक की संदिग्ध मौत, झोलाछाप डॉक्टर शव रोड पर फेंक हुए फरार

गुरुग्राम जिले में मारुति कंपनी में काम करने वाले 20 वर्षीय युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई.

गुरुग्राम जिले में मारुति कंपनी में काम करने वाले 20 वर्षीय युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई.

Gurugram News: पुलिस ने इस मामले की तफ़्तीश के दौरान सीसीटीवी में पाया कि कैसे लीलाधर को पहले क्लीनिक लाया गया और कैसे ल ...अधिक पढ़ें

गुरुग्राम. हरियाणा के गुरुग्राम जिले में मारुति कंपनी में काम करने वाले 20 वर्षीय युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई. झोलाछाप डॉक्टरों पर युवक को  दवा देने के बाद युवक की मौत हो गई. बाद में दोनों आरोपी फरार हो गए. पुलिस ने आरएमपी डॉक्टर फईम और सुभान के खिलाफ आईपीसी की धारा-304(2),201 और 34 के तहत मामला दर्ज कर की मामले की तफ़्तीश शुरू दी है.

दरअसल, बीती 26 सितंबर को आईएमटी इलाके के PG में रहने वाले लीलाधर को बुखार के चलते नजदीक के  आरएमपी डॉक्टर के पास इलाज के लिए ले जाया गया, जहाँ दवा लेने के बाद अचानक से लीलाधर की हालात बिगड़ने लगी और कुछ देर में लीलाधर की मौत हो गई. इससे घबराए बिना डिग्री के क्लीनिक चला रहे फईम और सुभान दोनों ने लीलाधर के शव को अलियार रोड पर फेंक फरार हो गए.

दरअसल, गुरुग्राम पुलिस ने बीती 26 सितंबर को अलियार गाँव के पास से अज्ञात युवक का शव बरामद किया था. तफ़्तीश के दौरान म्रतक की पहचान 20 वर्षीय लीलाधर के तौर पर सामने आई थी, जो की राजस्थान के चुरू का रहने वाला था और मारुति कंपनी में ट्रेनी कर्मचारी के तौर पर काम कर रहा था.

पुलिस ने इस मामले की तफ़्तीश के दौरान सीसीटीवी में पाया कि कैसे लीलाधर को पहले क्लीनिक लाया गया और कैसे लीलाधर की मौत के बाद फईम और सुभान शव को रोड पर फेंक दिया और फरार हो गए थे. इस मामले में अभी तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने नहीं आई है, जिससे की मौत के सही कारणों का पता लगाया जा सके. लेकिन मृतक के परिजनों ने गुरुग्राम पुलिस से इंसाफ की गुहार लगाई है.

Tags: Haryana News Today, Haryana police

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें