गुरुग्राम बना अवैध हथियारों का गढ़; 5 महीनों में 122 पिस्टल, 115 देसी कट्टे बरामद

गुरुग्राम में हथियार बरामद (सांकेतिक तस्वीर)

गुरुग्राम में हथियार बरामद (सांकेतिक तस्वीर)

Gurugram News: 1 जनवरी से 31 मई तक गुरुग्राम पुलिस की क्राइम यूनिट्स ने 245 से ज्यादा अवैध हथियारों को किया बरामद.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 10, 2021, 11:13 AM IST
  • Share this:

गुरुग्राम. विश्व के मानचित्र पर साइबर सिटी (Cyber City) के रूप में अपनी पहचान बना चुका गुरुग्राम अब अपराधियो के लिये महफूज जगह बनती जा रही है. साइबर सिटी में अवैध हथियारों (Illegal Weapons) की बात करे तो गुरुग्राम की क्राइम यूनिट ने पिछले 5 महीनों में 245 से ज्यादा हथियार बरामद किए है. इनमें 122 पिस्टल, 115 देसी कट्टे, 5 रिवाल्वर, 3 शाट गन और 46 मैगजीन के साथ दर्जनों जिंदा कारतूस बरामद किए है. इतना ही नहीं पिछले 5 महीनों में पुलिस ने आर्म्स एक्ट के  तहत 160 अपराधियों को अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे धकेलने में सफलता हासिल की है.

साइबर सिटी में अपराध और अपराधियों पर अंकुश लगाने के लिए गुरुग्राम पुलिस ने विशेष अभियान चलाया है. जिसके अंतर्गत गुरुग्राम की क्राइम यूनिट अवैध रूप से हथियार ले कर घूम रहे अपराधियो की धरपकड़ में जुटी हुई है. वर्ष 2020 की बात करे तो गुरुग्राम पुलिस ने बीते साल 314 अवैध हथियारों को कब्जे में लिया था. वहीं वर्ष 2021 के 5 महीनों की बात करे तो पुलिस ने 245 से ज्यादा अवैध हथियारों को कब्जे में लिया है.

पिछले दिनों दो युवकों को गिरफ्तार

एसीपी क्राइम की माने तो गुरुग्राम पुलिस साइबर सिटी में अपराध एवं अपराधियों को कतई बर्दाश्त नहीं करेगी. अभी बीते दिनों गुरुग्राम पुलिस की क्राइम यूनिट ने अवैध रूप से हथियारों की तस्करी करने के जुर्म में दो युवकों को गिरफ्तार कर भारी मात्रा में हथियार बरामद किए थे. ये दोनों युवक दिल्ली, राजस्था और कई राज्यो में अवैध रूप से हथियारों की सप्लाई कर चुके है.
खाखी का खौफ कम होता जा रहा!

गुरुग्राम पुलिस दुबारा साइबर सिटी में अपराध और अपराधियों पर लगाम लगाने एवम नागरिकों को सुरक्षित माहौल मुहैया करवाने के लिए उठाए जा रहे कदमों के चलते अपराध पर अंकुश जरूर लगा है. लेकिन कहीं न कहीं अवैध रूप से हथियार रखने और बेचने पर पकड़े जाने के बाद सजा का प्रावधान काफी कम ही है. ऐसे में अपराधियों में भी खाखी का खौफ कम होता जा रहा है, जिसके चलते अपराधी साइबर सिटी को महफूज मान कर चल रहे है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज