लाइव टीवी

...तो क्या इस 'प्लान' से बीजेपी ने सपना चौधरी को गोपाल कांडा के लिए प्रचार करने से रोका?

News18Hindi
Updated: October 19, 2019, 8:29 PM IST
...तो क्या इस 'प्लान' से बीजेपी ने सपना चौधरी को गोपाल कांडा के लिए प्रचार करने से रोका?
बीजेपी सूत्रों का कहना है कि आलाकमान ने सपना चौधरी की नारजगी को दूर कर दिया है. (file photo)

बीजेपी (BJP) सूत्रों का कहना है कि आलाकमान ने सपना चौधरी (Sapna Choudhary) की नाराजगी को दूर कर दिया है. आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) में सपना चौधरी को पार्टी किसी जाट बहुल विधानसभा सीट से उम्मीदवार बना सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2019, 8:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हरियाणवी सिंगर सपना चौधरी (Sapna Choudhary) को आखिरकार बीजेपी ने मना ही लिया. चुनाव प्रचार के आखिरी दिन सपना चौधरी ने हरियाणा लोकहित पार्टी (एचएलपी) के लिए चुनाव प्रचार नहीं किया. इससे पहले, शुक्रवार को सपना चौधरी ने एक वीडियो जारी कर एचएलपी सुप्रीमो गोपाल कांडा (Gopal Kanda) और उसके भाई के लिए चुनाव प्रचार करने के लिए हामी भरी थी. जिस पर बीजेपी (BJP) नेताओं के कड़े विरोध के बाद सपना ने फिर यू-टर्न ले लिया. चुनाव प्रचार के आखिरी दिन सपना चौधरी ने एचएलपी के लिए चुनाव प्रचार नहीं किया.

बीजेपी सूत्रों का कहना है कि पार्टी आलाकमान ने सपना चौधरी की नाराजगी को दूर कर दिया है. आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) में पार्टी सपना चौधरी को किसी जाट बहुल विधानसभा सीट से उम्मीदवार बना सकती है.

सपना फिर से बीजेपी की हुईं अपनी
बता दें, हरियाणा बीजेपी के कई बड़े नेता सपना चौधरी के वीडियो जारी करने से नाराज थे. इस वीडियो में सपना चौधरी ने हरियाणा लोकहित पार्टी के सुप्रीमो गोपाल कांडा और उसके भाई के लिए चुनाव प्रचार करने का ऐलान किया था. बीजेपी में रहते हुए एक वीडियो जारी कर गोपाल कांडा के पक्ष में चुनाव प्रचार करने से पार्टी में नाराजगी को लेकर चर्चा होने लगी थी कि इससे कैसे पार पाया जाए. इसके बाद हरियाणा बीजेपी के कुछ नेताओं ने दिल्ली बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को सपना चौधरी को मनाने के लिए लगाया. आखिरकार सपना चौधरी मान गईं और चुनाव प्रचार के आखिरी दिन गोपाल कांडा के लिए चुनाव प्रचार नहीं किया.

दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी ने सपना चौधरी को बीजेपी में शामिल कराया था
दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी ने सपना चौधरी को बीजेपी में शामिल कराया था


बता दें, सपना चौधरी फिलहाल बीजेपी की प्राथमिक सदस्य हैं और मनोज तिवारी के साथ पार्टी के कई कार्यक्रमों में नजर आती रही हैं. लेकिन, जिस तरह से हरियाणा लोकहित पार्टी के उम्मीदवारों, सिरसा शहरी सीट से गोपाल कांडा और रानियां विधानसभा सीट से उनके भाई गोविंद कांडा के चुनाव प्रचार का ऐलान किया था, वह बीजेपी नेताओं को नागवार गुजरा. वैसे भी सिरसा विधानसभा सीट पर बीजेपी को गोपाल कांडा के साथ ही एक अन्य निर्दलीय प्रत्याशियों से भी कड़ी टक्कर मिल रही है. ऐसे में सपना चौधरी अगर गोपाल कांडा के समर्थन में उतरती तो बीजेपी के लिए मुश्किल हो सकती थी.

दिल्ली विधानसभा चुनाव लड़ सकती हैं
Loading...

गौरतलब है कि बीते लोकसभा चुनाव से ठीक पहले हरियाणवी सिंगर सपना चौधरी को लेकर मीडिया में खूब चर्चाएं हो रही थीं. कांग्रेस और बीजेपी दोनों इस हरियाणवी सिंगर को अपने पाले में करने के लिए एक के बाद एक फोटो रिलीज कर रहीं थीं. कांग्रेस पार्टी ने दावा किया था कि सपना चौधरी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुई हैं. वहीं अगले दिन दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी ने सपना के साथ फोटो और वीडियो जारी कर कांग्रेस में शामिल होने का खंडन किया था. उसके बाद से सपना चौधरी लगातार मनोज तिवारी के साथ बीजेपी के सभाओं में देखी जा रही थीं.

ये भी पढ़ें: 

कमलेश तिवारी हत्याकांड: योगी राज में अब सिर कलम करने का फरमान जारी करना पड़ेगा भारी!

INX मीडिया केस: चार्जशीट में चिदंबरम के अलावा इन 14 अफसरों के नाम भी हैं शामिल


News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 19, 2019, 6:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...