लाइव टीवी

Analysis: हरियाणा के 'रण' के लिए जारी हुए कांग्रेस-BJP के घोषणा पत्र, जानें- किसने क्या वायदे किए

Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: October 13, 2019, 5:14 PM IST
Analysis: हरियाणा के 'रण' के लिए जारी हुए कांग्रेस-BJP के घोषणा पत्र, जानें- किसने क्या वायदे किए
हरियाणा विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी और कांग्रेस दोनों राष्ट्रीय पार्टियों ने अपना मेनिफेस्टो जारी कर दिया है.(फाइल फोटो)

दोनों राष्ट्रीय पार्टियां बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) ने हरियाणा (Haryana) के स्थानीय मुद्दों (Local Issues) को ही अपने-अपने चुनावी घोषणापत्र (Election Manifesto) में प्रमुखता से जगह दी है. कांग्रेस ने जहां किसानों (Farmers) और महिलाओं (Women) पर विशेष ध्यान दिया है तो वहीं बीजेपी ने युवाओं (youths) और किसानों पर फोकस किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 13, 2019, 5:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Elections 2019) को लेकर बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) दोनों बड़ी राष्ट्रीय पार्टियों ने अपना चुनावी मेनिफेस्टो (Election manifesto) जारी कर दिया है. कांग्रेस ने जहां बीते शुक्रवार को अपना मेनिफेस्टो जारी किया था तो वहीं बीजेपी ने रविवार को अपना संकल्प पत्र (Sankalp Patra) जारी किया है. दोनों राष्ट्रीय पार्टियों ने हरियाणा के स्थानीय मुद्दों को ही अपने-अपने घोषणा पत्र में प्रमुखता से जगह दी है. बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में रोजगार, शिक्षा और किसानों से जुड़े मुद्दों को प्रमुखता से उठाया है तो वहीं कांग्रेस ने गरीब महिलाओं को दो हजार रुपये चूल्हा खर्च से लेकर किसानों की कर्ज माफी और हर जिले में गौशाला खोलने जैसे वायदे किए हैं.

कांग्रेस इस बार के हरियाणा विधानसभा चुनाव में महिलाओं पर विशेष ध्यान दे रही है तो बीजेपी का विशेष ध्यान युवाओं और किसानों के प्रति है. कांग्रेस ने महिला वोटर को लुभाने के लिए हर महीने महिलाओं को दो हजार रुपये चूल्हा खर्च के तौर पर देने का वायदा किया है. साथ ही 24 घंटे के अंदर किसानों के कर्ज को माफ करने का भी ऐलान किया है. वहीं, बीजेपी ने संकल्प पत्र में किसानों को हर फसल की खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित करने का वायदा किया है. साथ ही किसान कल्याण प्राधिकरण को एक हजार करोड़ रुपये का बजट देने का भी वायदा किया है.

बीजेपी-bjp
बीजेपी ने अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी कर दिया है. इस मौके पर सीएम मनोहरलाल खट्टर के साथ ही जेपी नड्डा भी मौजूद थे.


कांग्रेस की घोषणापत्र की बड़ी बातें

कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में दो एकड़ तक की जमीन वाले किसानों को मुफ्त बिजली और फसल बीमा की एकमुश्त किस्त देने का वायदा किया है. कांग्रेस ने प्राकृतिक आपदाओं सूखा, बाढ़ आदि से फसल खराब होने पर 12000 रुपये प्रति एकड़ मुआवजा देने की बात कही है. नए मोटर व्हीकल एक्ट में भी भारी भरकम जुर्मानों के कानून को भी खत्म करने का वायदा किया है.

कांग्रेस ने अपने मेनिफेस्टो में महिलाओं और किसानों पर विशेश ध्यान दिया है.
कांग्रेस ने अपने मेनिफेस्टो में महिलाओं और किसानों पर विशेश ध्यान दिया है.


कांग्रेस ने अपने संकल्प पत्र में हरियाणा सरकार की सभी नौकरियों और निजी संस्थानों में महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण देने का वायदा किया है. इसके साथ ही पंचायती राज संस्थाओं में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण का वायदा, महिलाओं को संपत्ति हाउस टैक्स में भी 50 फीसदी की छूट जैसी लोकलुभावन घोषणा कर कांग्रेस ने महिला वोटरों को रिझाने की खूब कोशिश की है.
Loading...

कांग्रेस का हर जिले में गौशाला खोलने का वायदा

कांग्रेस ने इसके साथ ही हिंदू वोट बैंक को साधने के लिए भी कई दांव चले हैं. कांग्रेस ने हर विधानसभा क्षेत्र में गौशाला और गौशालाओं को सालाना बजट देने का वायदा किया है. गौमूत्र और गोबर का प्रसंस्करण कर उससे आयुर्वेदिक दवाएं, जैविक खाद और जैविक कीटनाशक तैयार करने का भी वायदा किया है. कांग्रेस ने अपने मेनिफेस्टो में मॉब लिंचिंग को लेकर कड़ा कानून बनाए जाने की बात कही है.

हरियाणा विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने जारी किया घोषणा पत्र-haryana assembly election congress release their manifesto hrrm
कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी


बीजेपी के संकल्प पत्र में युवाओं और किसानों को विशेष तवज्जो

बीजेपी ने हरियाणा में दोबारा सरकार बनने पर किसानों और युवाओं को लेकर बड़ा दांव चला है. बीजेपी के संकल्प पत्र में एसवाईएल के मुद्दे को जल्द हल कराने की बात कही है. हरियाणा में युवा विकास एवं स्व रोजगार मंत्रालय का गठन किया जाएगा. 500 करोड़ रुपये खर्च करके हरियाणा के 25 लाख युवाओं को कौशल प्रदान किया जाएगा. हरियाणा में भी स्टार्टअप मिशन शुरू किया जाएगा. मुद्रा लोन सभी को आसानी से मिले, ये तय किया जाएगा. प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना को प्रभावी बनाया जाएगा. हरियाणा में सभी आउटसोर्सिंग नौकरियों में डीसी दर को सख्ती से लागू किया जाएगा. उद्योगों को स्थानीय लोगों को 95 प्रतिशत से भी ज्यादा रोजगार देने पर विशेष लाभ देने का वायदा किया गया है. साल 2022 तक सभी को पक्का मकान प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मुहैया कराया जाएगा.

किसानों के लिए इनकम डबल करने के वादे से लेकर सिंचाई और डेयरी पर भी बात की गई है. (Demo Pic0


किसानों के लिए बीजेपी ने कई घोषनाएं

बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में किसानों के लिए सबसे ज्यादा फोकस डेयरी व्यवसाय पर किया है. बीजेपी अपने संकल्प पत्र में किसानों के सभी दुधारू पशुओं की नियमित जांच कराने की बात कही है. इसके लिए पॉलीक्लीनिक खोले जाएंगे. सभी पशुओं को बीमा के दायरे में लाया जाएगा. डेयरी में महिलाओं को खास मदद दी जाएगी. मछली पालन को 20 हजार हेक्टेयर से बढ़ाकर 40 हजार किया जाएगा. 2300 नहरों पर बने पुलों के रखरखाव के लिए एक हजार करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे. किसानों के लिए एक लाख सौर पंप सुनिश्चित किए जाएंगे. सिंचाई अभियान चलाया जाएगा जिसका सबसे ज्यादा फायदा दक्षिण हरियाणा को मिलेगा.

युवाओं को हरियाणा छोड़कर न जाना पड़े इसके लिए 500 करोड़ रुपये खर्च करने की बात कही गई है.


युवा और छात्रों पर बीजेपी की विशेष नजर

बीजेपी ने इसके साथ ही उन परिवारों की दो लड़कियों को भी मुफ्त शिक्षा देने का वायदा किया है, जिनकी वार्षिक पारिवारिक आय 1.80 लाख रुपये से कम है. छात्राओं के लिए पिंक बस सेवा शुरू की जाएगी. साथ ही छात्राओं को आत्मरक्षा की ट्रेनिंग दी जाएगी. महिलाओं की मदद के लिए विशेष केंद्र स्थापित करने की बात कही गई है. दो हजार वेलनेस सेंटर हर गांव में दैनिक बस सेवा सुनिश्चित करने का वायदा किया है. प्रदेश के 10 हजार दिव्यांगों को जॉब ओरिएंटेड ट्रेनिंग दी जाएगी.

ये भी पढ़ें:- INLD का घोषणा पत्र जारी- बेरोजगारों को देंगे ₹15000 प्रति माह

Congress Manifesto Haryana 2019: मॉब लिंचिंग पर बनाया जाएगा कड़ा का कानून

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 4:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...