लाइव टीवी

हरियाणा: बीजेपी को जाट बेल्ट में झटका लगा तो कांग्रेस के हाथ को मिला साथ

Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: October 26, 2019, 7:39 AM IST
हरियाणा: बीजेपी को जाट बेल्ट में झटका लगा तो कांग्रेस के हाथ को मिला साथ
हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजों में बीजेपी को जीटी रोड बेल्ट और जाटलैंड बेल्ट में बड़ा झटका लगा है

हरियाणा (Haryana) की सियासत में करीब 28 फीसदी जाट (JAAT) समुदाय की काफी अहमियत रही है. जाट वोटर्स (Voters) किसी भी पार्टी की जीत और हार में अहम रोल अदा करते हैं. जाट मतदाता किसी भी पार्टी को चुनाव जिताने और हराने का ताकत रखते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 26, 2019, 7:39 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजों में बीजेपी को जीटी रोड बेल्ट(G T Road Belt) और जाटलैंड बेल्ट(Jaatland Belt) में बड़ा झटका लगा है. इस बेल्ट में बीजेपी ने 2014 के विधानसभा चुनाव में 22 सीटें जीती थी, जबकि अब सिर्फ 14 रह गई है. जाटलैंड में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला (Subhash Barala), वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु (Captain Abhimanyu) और ओम प्रकाश धनखड़ (Om Prakash Dhankar), जैसे दिग्गज धाराशायी हो गए हैं. जाटलैंड और जीटी रोड बेल्ट में बीजेपी की करारी हार से ही बीजेपी को पूर्ण बहुमत नहीं मिल पाई.

कहानी जाटलैंड की सियासत की

हरियाणा की सियासत में करीब 28 फीसदी जाट समुदाय का काफी अहमियत रही है. जाट वोटर्स किसी भी पार्टी की जीत और हार में अहम रोल अदा करते हैं. जाट मतदाता किसी भी पार्टी को चुनाव जिताने और हराने का ताकत रखते हैं. यही वजह है कि हरियाणा की राजनीतिक धुरी लंबे समय तक जाट समुदाय के इर्द-गिर्द ही घूमती रही है.

हरियाणा में सत्ता किसी की भी रही हो, लेकिन जाट सभी सरकार के एजेंडे में रहते है. (Demo Pic)


लेकिन, इस विधानसभा के चुनाव में हरियाणा में जाटलैंड इलाके में विपक्षी दलें काफी मजबूत नजर रही थीं. इस इलाके में विपक्षी पार्टियों के चक्रव्यूह को भेदने में बीजेपी नाकाम साबित हुई है. इस इलाके में बीजेपी के जाट बिरादरी का प्रतिनिधत्व कर रहे है बड़े-बड़े दिग्गज धाराशायी हो गए हैं. मनोहर लाल खट्टर मंत्रिमंडल में कद्दावर मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ बादली, वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यू नारनौंद सीट से, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला टोहाना सीट से हार गए हैं. इसके अलावा भी गढ़ी सांपला किलोई, बेरी, महम, ऐलनाबाद जैसी कई विधानसभा सीटों पर बीजेपी उम्मीदवारों को विपक्षी प्रत्याशियों ने शिकस्त दी है. बीजेपी को किसी सीट पर जेजेपी तो किसी सीट पर कांग्रेस ने तो किसी सीट पर  आईएनएलडी ने हराया है.

Haryana Election Results 2019 Live Updates, haryana poll results 2019, BJP, congress, manohar lal khatter, bhupinder hooda, हरियाणा विधानसभा चुनाव परिणाम, हरियाणा विधानसभा चुनाव रिजल्ट 2019, बीजेपी, कांग्रेस, मनोहरलाल खट्टर, भूपेंद्र हुड्डा, दुष्यंत चौटाला, Dushyant Chautala, Jannayak Janata Party, जन नायक जनता पार्टी, जेजेपी, JJP
इस विधानसभा के चुनाव में हरियाणा में जाटलैंड इलाके में विपक्षी दलें काफी मजबूत नजर रही थीं


बता दें कि जाटलैंड और जीटी रोड इलाके में बीजेपी ने 20 जाट उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था, लेकिन ज्यादातर जाट उम्मीदवार हार गए. दूसरी तरफ कांग्रेस ने हरियाणा की सत्ता में वापसी के लिए जाटों पर भरोसा जताया था और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को हरियाणा चुनाव की कमान सौंपी थी. कांग्रेस ने 27 जाट उम्मीदवारों मैदान में उतारा था, तो दुष्यंत चौटाला की पार्टी जेजेपी ने 34 जाट प्रत्याशी पर दांव खेला. इसके अलावा इनेलो से भी करीब 30 जाट प्रत्याशी मैदान में उतारे थे.
Loading...

कुलमिलाकर बीजेपी एक बार फिर से हरियाणा में वापसी कर रही है, लेकिन बीजेपी को बहुमत न मिलना हरियाणा की राजनीति में नए संकेत लेकर आए हैं.  बीजेपी ने पिछले पांच सालों में जो जातीए समीकरण की जमीन तैयार की थी उसको विधानसभा चुनाव में साधने विफल रही. लोकसभा चुनाव में बेशक इस समीकरण से जबरदस्त कामयाबी हासिल की थी, लेकिन विधानसभा के चुनाव में ये समीकरण धरी की धरी रह गई.

ये भी पढ़ें: 

हरियाणा की सियासत में इस बार भी हाशिए पर महिलाएं, 90 में से सिर्फ 8 सीट पर मिली जीत

BJP को 'सत्ता की चाबी' सौंपने के लिए दिल्ली रवाना हुए गोपाल कांडा, चार्टर प्लेन में 6 विधायक साथ

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 25, 2019, 7:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...