लाइव टीवी

पाकिस्तान से दोस्ती सिद्धू को पड़ी भारी, कांग्रेस की स्टार कैंपेनर्स लिस्ट से नाम गायब

News18 Haryana
Updated: October 4, 2019, 8:43 PM IST
पाकिस्तान से दोस्ती सिद्धू को पड़ी भारी, कांग्रेस की स्टार कैंपेनर्स लिस्ट से नाम गायब
सिद्धू से प्रचार नहीं कराना चाहती है कांग्रेस

कांग्रेस नेताओं का मानना है कि सिद्धू (Navjot Singh Siddhu) की वजह से राष्ट्रवाद (Nationalism) के मुद्दे पर जनता को जवाब देना मुश्किल हो सकता है. आपको बता दें कि सिद्धू ने पाकिस्तान जाकर आर्मी चीफ बाजवा को गले लगाया था. साथ ही सिद्धू गाहे-बगाहे पाक पीएम इमरान खान की तारीफ भी करते रहे हैं.

  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Election 2019) प्रचार के लिए जहां सारी पार्टियों ने कमर कस ली है वहीं कांग्रेस में अब भी सबकुछ ठीक नजर नहीं आ रहा. कांग्रेस ने अपने स्टार कैंपेनर्स के नामों की लिस्ट जारी की है. इस लिस्ट में दो हैरान करने वाली बातें आई सामने हैं. यहां से अपनी लच्छेदार बातों से समा बांध देने वाले नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Siddhu) का नाम गायब है.

न्यूज18 ने पहले बता दिया था कि नवजोत सिंह सिद्धू का नाम इस बार स्टार कैंपेनर्स की लिस्ट में नहीं होगा. इसका कारण है कि कांग्रेस के नेता खुद नहीं चाहते थे कि सिद्धू इस बार हरियाणा का रुख भी करें. कांग्रेस नेताओं का मानना है कि सिद्धू की वजह से राष्ट्रवाद के मुद्दे पर जनता को जवाब देना मुश्किल हो सकता है. आपको बता दें कि सिद्धू ने पाकिस्तान जाकर आर्मी चीफ बाजवा को गले लगाया था. साथ ही सिद्धू गाहे-बगाहे पाक पीएम इमरान खान की तारीफ करते रहे हैं. कुछ ऐसा ही हुआ था लोकसभा चुनाव में जब सिद्धू की वजह से कांग्रेस घिरती नजर आई थी.

अशोक तंवर का नाम लिस्ट में
लिस्ट में दूसरी हैरान करने वाली बात ये है कि अपनी पार्टी पर 5 करोड़ रुपए में टिकट बेचने का आरोप लगाने वाले अशोक तंवर (Ashok Tanwar) को पार्टी ने राज्य के लिए स्टार कैंपेनर्स की लिस्ट में शामिल किया है. बता दें कि खबर आई थी कि टिकट वितरण में अपने समर्थकों की अनदेखी से नाराज कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर  ने गुरुवार को विधानसभा चुनाव के लिए बनी विभिन्न समितियों से इस्तीफा दे दिया.

अशोक तंवर ने लगाया था आरोप
अशोक तंवर ने आरोप लगाया कि हरियाणा कांग्रेस अब 'हुड्डा कांग्रेस' बनती जा रही है. तंवर ने संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को पत्र लिखकर कहा कि उन्हें समितियों से मुक्त किया जाए और वह सामान्य कार्यकर्ता की तरह पार्टी के लिए काम करते रहेंगे. वह चुनाव के लिए बनी प्रदेश चुनाव समिति सहित कई समितियों में शामिल थे. उन्होंने कहा, 'आप सभी जानते हैं कि हरियाणा में विधानसभा चुनाव है. पिछले पांच साल का घटनाक्रम सबके सामने है. पार्टी के अंदर ऐसी ताकतें हैं जिन्होंने पार्टी को लगातार कमजोर किया. जमीन से जुड़े नेताओं को काम करने से रोका.'

ये भी पढ़ें:
Loading...

हरियाणा विधानसभा चुनावः रण में उतरेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

JJP ने जारी की उम्मीदवारों की आखिरी लिस्ट, इन 5 नामों पर लगी मुहर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 4, 2019, 6:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...