लाइव टीवी

शपथ लेने के बाद जानें उत्साह से लबरेज इन मंत्रियों ने क्या कहा

Manoj Kumar | News18 Haryana
Updated: November 15, 2019, 9:36 AM IST
शपथ लेने के बाद जानें उत्साह से लबरेज इन मंत्रियों ने क्या कहा
अनिल विज, कृष्णपाल गुर्जर, मूलचन्द शर्मा, रंजीत चौटाला, अनूप धानक और संदीप सिंह

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के दूसरे कार्यकाल में मंत्री पद की शपथ लेने के बाद उत्साह से लबरेज मंत्रियों ने अपने-अपने ढंग से हरियाणा का विकास करने की बात कही.

  • Share this:
चंडीगढ़.  हरियाणा मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद नव नियुक्त मंत्रियों ने न्यूज 18 से विशेष रूप से अपने काम को लेकर विचार व्यक्त किए. एक बात सबने समान रूप से कही कि जो भी काम दिया जाएगा वे उसे पूरी निष्ठा से करेंगे. साथ ही अपना बेस्ट परफार्मेंस देने की कोशिश करेंगे और हरियाणा को विकास के पथ पर आगे ले जाएंगे. इन मंत्रियों ने बातचीत में जो कहा वह इस प्रकार है-

अनिल विज- बहुत बैलेंस कैबिनेट है, सभी को प्रतिनिधित्व देने और बैलेंस बनाने की कोशिश की गई है. मुख्यमंत्री अब मुझे कौन सा विभाग देंगे ये मुख्यमंत्री का विशेषाधिकार (prerogative) है . हमारी कोई च्वायस नहीं है जो विभाग देंगे वहीं से सिक्सर मांगे.

कृष्णपाल गुर्जर- जातीय और क्षेत्रीय संतुलन बनाने की पूरी कोशिश की गई है लेकिन मंत्रिमंडल की संख्या सीमित है उससे आगे जा नहीं सकते. इसके बावजूद मनोहर लाल जी ने इतना अच्छा मंत्रिमंडल बनाया है, उनको बहुत- बहुत बधाई. गठबंधन की यह सरकार पूरे पांच साल चलेगी. अभी दोनों दलों के पास एक-एक मंत्री का पद खाली है.

रंजीत चौटाला - हर आदमी को अपनी मर्यादा कभी नहीं खोनी चाहिए.सीएम साहब ने मुझ पर भरोसा किया तो मैं काम करके दिखाऊंगा. सबसे पहले मैं  87 में  मंत्री बना था. तब भी काम किया था. मैं एक मिसाल कायम करूंगा. जो भी मंत्रालय मिलेगा उसे एक मॉडल बनाकर दिखाऊंगा. मैं नर्म आदमी हूं लेकिन सख्त एडमिनिस्ट्रेटर हूं.

मूलचन्द शर्मा- ये सरकार इसलिए चलेगी कि जो हमारा पार्टनर है दुष्यंत चौटाला वह हमारी विचार धारा से संबंधित हैं. उनके दादाजी चौधरी देवीलाल जी के साथ हम 1975 में जेल में रहे. 87 में हम उनकी सरकार में रहे. जेजेपी हमारी नेचुरल एलाई है.

जेपी दलाल- पहली बार विधायक बने भिवानी जिले के लोहारू विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व कर रहे जे.पी दलाल का कहना है कि पहले सिर्फ एक क्षेत्र तक सीमित थे अब पूरे राज्य के लिए काम करना है. हमारी प्राथमिकता रहेगी कि जो गरीब है और उसे सरकार की योजनाओं का लाभ नहीं मिला है तो हमारी कोशिश रहेगी कि उस व्यक्ति तक सरकार की योजनाओं का लाभ मिले.

संदीप सिंह- संगठन और सरकार ने मुझ पर भरोसा रखा अब जैसे ग्राउंड में देता था वैसे 100 परसेंट यहां पर दूंगा. खेल मंत्री बनाए जाने की संभावना पर उन्होंने कहा कि विभाग देना तो सीएम साहब, सरकार और संगठन पर निर्भर करता है वे जो भी ड्यूटी लगाएंगे, उसे पूरी तरह निभाऊंगा.अनूप धानक- जेजेपी कोटे से राज्यमंत्री बने अनूप धानक ने कहा कि नेताओं के फैसले हैं जो है वह सर्वमान्य है. चौधरी देवीलाल के विचारों से राजनीति सीखी है, उसके हिसाब से काम करेंगे.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2019, 6:41 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर