Home /News /haryana /

haryana cm manohar lal khattar distributed tablets to government school students of 10th 12th nodnc

गुड न्यूज: हरियाणा सरकार ने दे दिया तोहफा, 10वीं-12वीं के 3 लाख छात्रों को मिला टैबलेट

10वीं और 12वीं कक्षा के सरकारी स्कूल के विद्यार्थियों को करीब तीन लाख टैबलेट बांटे गए. (सांकेतिक तस्वीर)

10वीं और 12वीं कक्षा के सरकारी स्कूल के विद्यार्थियों को करीब तीन लाख टैबलेट बांटे गए. (सांकेतिक तस्वीर)

Haryana Digital Education: मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने रोहतक में महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय में अनुकूल मॉड्यूल (आदिघम) योजना के साथ सरकार की अग्रिम डिजिटल हरियाणा पहल शुरू की. उन्होंने इस अवसर पर कहा, अगले साल से, नौवीं से लेकर बाहरवीं तक की सभी कक्षाओं को कवर किया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

सरकार का इरादा 10वीं-12वीं कक्षा के पांच लाख विद्यार्थियों को उपकरण देने का है

चंडीगढ़. हरियाणा सरकार ने गुरुवार को करीब तीन लाख छात्रों को बड़ा तोहफा दिया. हरियाणा सरकार की ओर से ‘ई-अधिगम’ योजना के तहत 10वीं और 12वीं कक्षा के सरकारी स्कूल के विद्यार्थियों को करीब तीन लाख टैबलेट बांटे गए. इन टैबलेट में पर्सनलाइज्ड और अडैप्टिव लर्निंग सॉफ्टवेयर के साथ प्री-लोडेड कंटेंट और दो जीबी मुफ्त डेटा है. दूसरी ओर सरकार का इरादा 10वीं-12वीं कक्षा के पांच लाख विद्यार्थियों को उपकरण देने का है हालांकि, सरकार के अनुसार ग्याहरवीं के स्टूडेंट्स दसवीं की बोर्ड परीक्षा पास करने और अगले वर्ष की अर्हता प्राप्त करने के बाद इसे प्राप्त कर सकेंगे.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने रोहतक में महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय में अनुकूल मॉड्यूल (आदिघम) योजना के साथ सरकार की अग्रिम डिजिटल हरियाणा पहल शुरू की. उन्होंने इस अवसर पर कहा, अगले साल से, नौवीं से लेकर बाहरवीं तक की सभी कक्षाओं को कवर किया जाएगा. टैबलेट और डेटा विद्यार्थियों के लिए उपकरण हैं, जो उन्हें 21वीं सदी के कौशल हासिल करने और नए अवसर तलाशने में मदद करेंगे. ई-लर्निंग के माध्यम से, हरियाणा के विद्यार्थी वैश्विक विद्यार्थी बनेंगे.

विकास के लिए बनेंगे टास्क फोर्स

सीएम खट्टर का कहना था कि कोविड​​​​-19 के दौरान कई परिवारों ने अपने बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा में पारंगत करने के लिए संघर्ष किया और यह पहल इस चिंता को दूर करने का एक प्रयास है. सरकार शिक्षा क्षेत्र के लिए दो टास्क फोर्स बनाएगी. एक बुनियादी ढांचे, इमारतों, चारदीवारी, सौंदर्यीकरण, सफाई, सड़कों, पानी, स्वच्छता और स्कूलों की अन्य आवश्यक आवश्यकताओं पर काम करेगा जबकि दूसरा फर्नीचर आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करेगा.

सीएम का कहना था कि नई शिक्षा नीति के तहत हम आईटी (सूचना प्रौद्योगिकी) पर काफी जोर दे रहे हैं.

देश ने इस नीति को 2030 तक लागू करने का लक्ष्य रखा है, लेकिन हमारा लक्ष्य 2025 है. हम शिक्षा क्षेत्र को प्राथमिकता दे रहे हैं और राज्य के लगभग 1.70 लाख करोड़ रुपये के बजट में से 20,000 करोड़ रुपये अकेले शिक्षा के लिए रखे गए हैं. राज्य के शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने कहा कि एक साथ राज्य भर के 119 ब्लॉकों में छात्रों के बीच उपकरणों का वितरण किया गया है.

Tags: CM Manohar Lal Khattar, Haryana education

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर