अपना शहर चुनें

States

हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष का बड़ा आरोप- Corona से मरने वालों का आंकड़ा छुपा रही सरकार

हरियाणा में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के लिए कुमारी सैलजा ने भाजपा-जजपा सरकार को जिम्मेवार ठहराया
हरियाणा में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के लिए कुमारी सैलजा ने भाजपा-जजपा सरकार को जिम्मेवार ठहराया

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा (Kumari Sailja) ने आरोप लगाया कि सरकार द्वारा प्रदेश में बिना तैयारियों के स्कूल खोल दिए गए. जिस कारण 300 से ज्यादा स्कूली बच्चे और 35 से ज्यादा शिक्षक कोरोना संक्रमित (Corona Infected) हो चुके हैं.

  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा (Kumari Sailja) ने राज्य में बढ़ते कोरोना संक्रमण (Corona Infection) को लेकर भाजपा-जजपा सरकार को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने कहा कि सरकार (Haryana Government) की नाकामियों और लापरवाही के कारण प्रदेश में एक बार फिर कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेज हो गई है. यह चिंता का विषय है. सरकार कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए तुरंत ठोस कदम उठाए.

कुमारी सैलजा ने कहा कि कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने में हरियाणा की गठबंधन सरकार पूरी तरह से विफल साबित हुई है. कांग्रेस पार्टी द्वारा बार-बार चेताने के बावजूद सरकार द्वारा इस महामारी से निपटने के कोई पुख्ता इंतजाम नहीं किए गए. जिसके परिणामस्वरूप पिछले 7 दिनों में ही हरियाणा में कोरोना के 17,557 नये मामले सामने आ चुके हैं. पिछले 7 दिनों में कोरोना से 155 लोगों की मृत्यु हो चुकी है. नए मरीज बढ़ने की दर में हरियाणा एक माह में नौवें से तीसरे स्थान पर आ गया है. सक्रिय मरीजों की संख्या में भी तेजी से बढ़ोतरी हो रही है. हरियाणा में अभी तक कुल 2209 लोगों की मौत कोरोना संक्रमण से हो चुकी है.

उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा प्रदेश में बिना पूरी तैयारियों के स्कूल खोल दिए गए. जिस कारण 300 से ज्यादा स्कूली बच्चे और 35 से ज्यादा शिक्षक कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. सरकार की नाकामी और लापरवाही के कारण कोरोना संक्रमण का खतरा बच्चों, उनके अभिभावकों और शिक्षकों तक पहुंच गया है. कांग्रेस पार्टी द्वारा स्कूल खोलने के फैसले पर सरकार को चेताया गया था, लेकिन सरकार ने हमारी आवाज को अनसुना कर दिया.




कुमारी सैलजा ने कहा कि कोरोना महामारी की यह स्थिति हरियाणा प्रदेश में भयावह हालातों को बयां कर रही है. यदि समय रहते हरियाणा सरकार द्वारा कोरोना की रोकथाम के लिए ठोस कदम नहीं उठाए गए तो स्थिति और भी विस्फोटक हो सकती है. वहीं प्रदेश से लगातार ये खबरें भी आ रही हैं कि कोरोना मृतकों के असली आंकड़े छुपाए जा रहे हैं. इस तरह से आंकड़े छुपाए जाना अत्यंत चिंता का विषय है. प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की असल संख्या आधिकारिक आंकड़ों से कहीं ज्यादा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज