लाइव टीवी

ऊर्जा मंत्री रणजीत चौटाला बिजली बिल के भुगतान पर दिए बयान से मुकरे, अब ये कहा

News18 Haryana
Updated: January 4, 2020, 4:22 PM IST
ऊर्जा मंत्री रणजीत चौटाला बिजली बिल के भुगतान पर दिए बयान से मुकरे, अब ये कहा
ऊर्जा मंत्री रणजीत चौटाला ने कहा कि उनकी बात को गलत तरीके से पेश किया गया.

ऊर्जा मंत्री रणजीत चौटाला (Ranjit Chautala) ने सफाई देते हुए कहा कि मैंने लोगों को बिजली बिल (Electricity Bill) का भुगतान करने के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से ऐसा कहा था. मंत्री ने कहा कि उनकी बात को गलत तरीके से पेश किया गया.

  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा के ऊर्जा मंत्री रणजीत चौटाला (Energy Minister Ranjit Chautala) ने पिछले दिनों दिए गए अपने उस बयान पर यू टर्न ले लिया है जिसमें उन्होंने कहा था कि बिजली बिल (Electricity bill) का भुगतान नहीं करने वाले लोगों के बच्चों को प्रतियोगिता परीक्षाओं (Competition examinations) में नहीं बैठने दिया जाना चाहिए. मंत्री के इस बयान की जब चौरतरफा आलोचना होने लगी तब उन्होंने मामले में सफाई देते हुए कहा कि मैंने लोगों को बिजली बिल का भुगतान करने के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से ऐसा कहा था. उन्होंने कहा कि उनकी बात को गलत तरीके से पेश किया गया.




पूर्व सीएम हुड्डा ने ऊर्जा मंत्री के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताया

ऊर्जा मंत्री रणजीत चौटाला के इस बयान को पूर्व सीएम और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Bhupendra Singh Hudda) ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया. ऊर्जा मंत्री के बयान से सरकार और पार्टी के कई नेता भी सहमत नहीं थे. वैसे गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने ऊर्जा मंत्री के बयान का समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि ऊर्जा मंत्री जनता के बीच यही संदेश पहुंचाना चाहते हैं कि वे बिजली बिल का भुगतान नियमित रूप से करें. अनिल विज ने कहा कि लोगों को बिजली समय पर भरने ही चाहिए, क्योंकि बिजली की आपूर्ति मुफ्त में नहीं की जाती है.ये भी पढ़ें - Breaking: डेढ़ साल की बच्ची के साथ पड़ोसी ने किया दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

ये भी पढ़ें - सपना चौधरी की SUV का हुआ एक्सीडेंट, पुलिस ने जांच में शामिल होने को कहा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 4, 2020, 4:22 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर