अपना शहर चुनें

States

किसानों को बड़ी राहत, हरियाणा सरकार ने बाजरे की खरीद की समय सीमा 27 नवंबर तक बढ़ाई

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (फाइल फोटो)
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (फाइल फोटो)

पिछले सीजन (Last Season) में पौने चार लाख टन बाजरे (Millet) की फसल की खरीद की गई थी. हालांकि, धान खरीद की समय सीमा बढ़ाने पर विचार नहीं किया जा रहा है.

  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा सरकार (Haryana Government) ने बाजरा किसानों को बड़ी राहत देते हुए बाजरा खरीद की समय सीमा 27 नवंबर तक बढ़ा दी है. खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के एसीएस पीके दास ने बताया कि इस बार बाजरे की फसल पिछले साल के मुकाबले बड़ी मात्रा में आई है. एमएसपी पर बाजरे की खरीद के चलते बड़ी मात्रा में मंडियों में बाजरे की फसल आ रही है. पिछले सीजन में पौने चार लाख टन बाजरे की फसल की खरीद की गई थी. इस बार करीब 6 लाख टन फसल खरीदी जा चुकी है, जबकि अभी भी 39 हज़ार के करीब बाजरे के किसानों की री-शिड्यूलिंग होनी बाकी है.

पीके दास ने बताया कि इस बार धान की फसल पिछले साल के मुकाबले 10 लाख टन कम आई है. इस बार 54 लाख टन धान की फसल की खरीद हुई है, जबकि पिछ्ले सीजन में 64 लाख टन धान की फसल खरीदी गई थी. दास ने कहा सरकार ने धान मिलों पर जो कार्रवाई की थी, उसके चलते गड़बड़ी रुकी है उसी का नतीजा है इस बार दस लाख टन फसल कम हुई है.

साढ़े 9 हजार करोड़ की पेमेंट
दास ने कहा धान के किसानों को अब तक साढ़े 9 हजार करोड़ की पेमेंट हो चुकी है, लेकिन 48 हजार किसानों की पेमेंट गलत खातों की जानकारी के कारण अभी भी अटकी हुई है. इसके लिए अधिकारियों को किसानों से सम्पर्क करके खातों की सही जानकारी जुटाने के लिए कहा है.




धान की खरीद की समय सीमा बढ़ाने पर विचार नहीं
अब तक हरियाणा सरकार धान के  किसानों की साढ़े 9 हजार करोड़ की पेमेंट की जा चुकी है डेढ़ करोड़ हजार करोड़ की पेमेंट अभी भी बकाया है. पीके दास ने कहा कि अब तक धान की खरीद लगभग हो चुकी है और धान की फसल खरीद की समय सीमा बढ़ाने का कोई विचार नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज