हरियाणा में रोडवेज बसों का सफर हुआ महंगा, सरकार ने बढ़ाया किराया
Chandigarh-City News in Hindi

हरियाणा में रोडवेज बसों का सफर हुआ महंगा, सरकार ने बढ़ाया किराया
हरियाणा रोडवेज बस (प्रतीकात्मत फोटो)

100 किलोमीटर के बाद 20 पैसे प्रति किलोमीटर की बढ़ोतरी की गई है. अब यात्रियों को एक किलोमीटर का एक रुपये चुकाना होगा. हरियाणा (Haryana) में पहले प्रति किलोमीटर 85 पैसे किराया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 30, 2020, 8:37 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा सरकार ने रोडवेज बसों का किराया बढ़ाने का फैसला किया है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) की अध्यक्षता में हुई बैठक में रोडवेज बसों (Roadways Buses) का किराया 15 से 20 फीसदी बढ़ाने का निर्णय लिया गया. सरकार ने 100 किलोमीटर तक के सफर के 15 पैसे प्रति किलोमीटर की बढ़ोतरी की है. वहीं 100 किलोमीटर के बाद 20 पैसे प्रति किलोमीटर की बढ़ोतरी की गई है. अब यात्रियों को एक किलोमीटर का एक रुपये चुकाना होगा. हरियाणा (Haryana) में पहले प्रति किलोमीटर 85 पैसे किराया था. लग्जरी (वोल्वो) बसों का किराया दो रुपये प्रति किलोमीटर से बढ़ाकर ढ़ाई रूपये प्रति किलोमीटर किया गया है.

हरियाणा में सामान्य बसों का किराया बढ़ाने के बावजूद यह पंजाब, हिमाचल और राजस्थान से कम ही रहेगा. औसत हिसाब लगाया जाए तो लग्जरी बसों का चंडीगढ़ से दिल्ली तक का किराया 125 रुपये बढ़ गया है. इसके साथ ही सरकार प्रदेश में पेट्रोल और डीजल के भी दाम बढ़ाने जा रही है.

पेट्रोल और डीजल पर लगाया वैट



प्रदेश सरकार ने डीजल और पेट्रोल पर वैट की दरों को बढ़ाने का भी फैसला किया है. सरकार ने पेट्रोल पर 1 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 1.1 रुपये प्रति लीटर वैट लगाया है. इसके साथ ही सरकार ने मंडियों में सब्जी एवम फलों की बिक्री पर 1 फीसदी मार्केट फीस और 1 फीसदी HRDF सेस लगाया गया. हरियाणा सरकार के इस फैसले से सब्जी एवं फलों की कीमतों में बढ़ोतरी होगी.
शराब भी महंगी करने की तैयारी

कैबिनेट बैठक में आबकारी नीति को लेकर भी चर्चा हुई. इसे 14 मई से लागू करने की योजना है. प्रदेश में शराब की कीमतों में भी अब बढ़ोतरी हो सकती है. तीन मई तक लॉकडाउन के चलते शराब ठेके बंद हैं. इसके बाद भी ठेके खुलेंगे या नहीं, यह केंद्र सरकार की हिदायतें पर निर्भर करेगा, लेकिन सरकार चाहती है कि 14 मई से ठेकों को खोला जा सकता है.

ये भी पढ़ें:- 

इस गांव ने कायम की दान देने की मिसाल, कोराना से जंग के लिए सौंपा 1 करोड़ रुपये का चेक! 

इस नेक काम के लिए 1,00,000 हैक्टेयर में धान नहीं पैदा करेगा यह राज्य 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज