Haryana सरकार की बड़ी घोषणा, गरीबी रेखा से नीचे के Corona मरीजों को मिलेंगे 5 हजार

हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को 5000 रुपये प्रदान करने का निर्णय लिया गया है,

हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को 5000 रुपये प्रदान करने का निर्णय लिया गया है,

हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को 5000 रुपये प्रदान करने का निर्णय लिया गया है, क्योंकि उनकी आजीविका रुक गई है. उन्हें कोविड के बीच काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा था.

  • Share this:

चंडीगढ़. हरियाणा सरकार ( Haryana Government ) ने कोरोना संक्रमण की वजह से प्रभावित गरीबी रेखा से नीचे आने वाले लोगों को आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है. हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ( Anil Vij ) ने कहा कि सरकार उन लोगों को पांच हजार रुपये की मदद देगी जो होम आइसोलेट हैं. यह एकमुश्त राशि चिकित्सा सहायता के रूप में दी जाएगी. यह राशि सीधे मरीजों के बैंक खाते में भेजी जाएगी.

कोरोना की वजह से अधिकांश लोगों के परिवार भारी परेशानी उठा रहे हैं. इसी को लेकर हरियाणा सरकार की ओर से आर्थिक मदद की पहल की गई है. हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को 5000 रुपये प्रदान करने का निर्णय लिया गया है, क्योंकि उनकी आजीविका रुक गई है. उन्हें कोविड के बीच काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा था. विज ने बताया कि इसके लिए लाभार्थी कोविड मरीजों का परिवार पहचान पत्र होना अनिवार्य होगा.

इसके अलावा प्रदेश में ऐसे कोविड मरीज जो गरीबी रेखा से नीचे हैं व आयुष्मान भारत योजना के तहत सुविधा प्राप्त नहीं कर रहे हैं, उनको राज्य सरकार द्वारा कोविड उपचार अधिकृत निजी अस्पतालों में इलाज के लिए प्रतिदिन प्रति मरीज सब्सिडी देने का निर्णय लिया गया है. यह राशि मरीज के डिस्चार्ज होने के समय बिल से घटा दी जाएगी.

शादियों में 11 लोगों से अधिक की अनुमति नहीं
10-17 मई से एक सप्ताह के लिए राज्य में महामारी की चेतावनी जारी करते हुए 'सूरक्षित हरियाणा' की घोषणा की गई है. इसको लेकर लॉकडाउन के नियमों को और सख्त बनाया गया है. इस दौरान शादियों और अंत्येष्टि में भी 11 से अधिक लोगों के एकत्र होने पर रोक है. इस दौरान किसी भी जुलूस की अनुमति नहीं दी जाएगी. वहीं कोरोनाकाल में ब्लैक मार्केटिंग करने वाले लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई के निर्देश जारी किए गए हैं. जमाखोरी करने वालों की सूचना के लिए उपभोक्ता शिकायत नंबर भी जारी किया गया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज