हरियाणा सरकार ने मरीजों के घर पहुंचानी शुरू की स्वास्थ्य किट, किट में हैं यह उपयोगी यंत्र और दवाएं

(फाइल फोटो)

(फाइल फोटो)

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा है कि कोरोना से बचाव को लेकर सरकार ने होम आइसोलेट मरीजों को राहत देने का फैसला किया है. सरकार ने इन मरीजों को एक-एक किट भी देने का फैसला किया है. जिससे वह खुद भी अपने आप को स्वस्थ रख सकेंगे.

  • Share this:

चंडीगढ़. चंडीगढ़ ( Chandigarh ) में हरियाणा ( Haryana ) के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ( Anil Vij ) ने कोरोना मरीजों के इलाज के लिए एक एक किट फ्री देने का फैसला किया है. इस मौके स्वास्थ्य मंत्री विज ने कहा कि हरियाणा में 95000 लोग घरों में आइसोलेट हैं. सरकार को उनकी भी पूरा पूरी चिंता है. डॉक्टर कम से कम 2 दिन में एक बार इन लोगों का चेकअप करने के घर जाते हैं. ताकि यह लोग जल्द ठीक हो सकें. इसी के चलते सरकार ने मरीजों को किट देने का फैसला किया है.

कोरोना वायरस ने पूरे देश में पूरी स्वास्थ्य व्यवस्था को ध्वस्त कर दिया है. हरियाणा भी कोरोना महामारी से जूझ रहा है. अस्पतालों को मरीजों को भर्ती करने की जगह नहीं है. अधिकांश मरीजों को होम आइसोलेट कर उनका घर पर ही इलाज किया जा रहा है. इसी को लेकर हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा है कि कोरोना से बचाव को लेकर सरकार ने होम आइसोलेट मरीजों को राहत देने का फैसला किया है.

सरकार ने इन मरीजों को एक-एक किट भी देने का फैसला किया है. जिससे वह खुद भी अपने आप को स्वस्थ रख सकेंगे. जो किट मरीजों को दी जाएगी उस किट में ऑक्सीजन मीटर, इलेक्ट्रॉनिक थर्मामीटर, मास्क, आयुर्वेदिक और एलोपैथिक दवाएं, स्टीमर और एक बुकलेट दी गई है. इस मौके पर अनिल विज ने दावा किया कि हरियाणा सरकार संभवतया देश का ऐसा पहला राज्य है, जिसने घरों में दाखिल मरीजों को इस तरह इलाज किट दे रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज