• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • ...और तब हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज झूम-झूम कर नाचने और गाने लगे

...और तब हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज झूम-झूम कर नाचने और गाने लगे

अनिल विज ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक में भारत को गोल्ड मिलते ही वे खुशी से नाचने लगे.

अनिल विज ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक में भारत को गोल्ड मिलते ही वे खुशी से नाचने लगे.

गृह मंत्री ने कहा कि हरियाणा में खूब टैलेंट हैं. सारे देश के मेडल की भूख अकेला हरियाणा पूरी कर सकता है और हम उस दिशा में लगातार लगे हुए हैं. उन्होंने कहा कि हमने हरियाणा में खेल विश्वविद्यालय बनाया है, जो जल्द ही संचालित हो जाएगा.

  • Share this:

चंडीगढ़. हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि देश में खिलाड़ियों के नाम पर जो भी सुविधाएं, इनाम, इंफ्रास्ट्रक्चर, स्टेडियम इत्यादि बनाए जाएं, वे किसी न किसी खिलाड़ी के नाम पर ही बनाए जाएं. इससे खिलाड़ियों को प्रेरणा मिलती है और वह अपने खेल में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं.

विज ने कहा कि जो एतराज कर रहे हैं, उन्होंने आजादी के बाद 50-60 साल राज किया और जितनी भी परियोजना बनी, वे सभी में से 90 से 95% नेहरू और गांधी परिवार के नाम पर बनीं. अब यदि दूसरों का भी नाम आगे आ रहा तो उन्हें स्वागत करना चाहिए. प्रधानमंत्री मोदी ने यदि ध्यानचंद के नाम पर नाम खेल रत्न अवॉर्ड का नाम रख दिया है, तो यह अच्छी बात है. इसका सबको स्वागत करना चाहिए. विज ने कहा कि हर बात में राजनीति नहीं लानी चाहिए और खेल में तो बिल्कुल भी नहीं. खिलाड़ी सिर्फ खिलाड़ी होता है उसकी कोई पार्टी, क्षेत्र, प्रदेश नहीं होता. वह देश के लिए खेलता है. आज जितने भी खिलाड़ी हैं वह देश के लिए खेल कर आए हैं. फिर देखो आप हमारा खेल कहां जाएगा. इसमें राजनीति यदि वह करते हैं तो ये बहुत बड़ी रुकावट पैदा कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि यदि स्टेडियम इत्यादि का नाम खिलाड़ियों के नाम पर रखा जाएगा, तो खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ेगा. हिंदुस्तान में जितने भी ऐसे प्रोजेक्ट और योजनाएं हैं वह हमारे देश के खिलाड़ियों के नाम पर रखी जानी चाहिए, ताकि खिलाड़ियों को उससे प्रेरणा मिले और जब किसी ओलंपिक खिलाड़ी के नाम पर स्टेडियम में कोई खिलाड़ी पैर रखता है तो उसका असर और ही होता है.

उन्होंने कहा कि हरियाणा खिलाड़ियों का सबसे ज्यादा सम्मान करता है. जितनी इनाम राशि हरियाणा में खिलाड़ियों को दी जाती है, सारे देश में नहीं दी जाती. उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत के खिलाड़ियों को तैयार करने के लिए हमें बचपन से ही बच्चों को खेल के प्रति तैयार करना होगा और उन्हें अच्छे ट्रेनर्स और साइंटिफिक कोचिंग देनी होगी, तभी हम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा कर पाएंगे.

विज ने कहा कि प्रदेश में खिलाड़ियों के लिए सब सुविधाएं देते हैं, इनमें इंफ्रास्ट्रक्चर बनाने पर हम पूरा ध्यान दे रहे हैं. गृह मंत्री ने कहा कि हरियाणा में खूब टैलेंट हैं. सारे देश के मेडल की भूख अकेला हरियाणा पूरी कर सकता है और हम उस दिशा में लगातार लगे हुए हैं. उन्होंने कहा कि हमने हरियाणा में खेल विश्वविद्यालय बनाया है, जो जल्द ही संचालित हो जाएगा. इसके अलावा, स्कूलों में हमने नर्सरिया खोली हैं क्योंकि यदि नीचे से ही बच्चे को हम तैयार नहीं करेंगे, तो खिलाड़ी खेल नहीं सकते. उन्होंने कहा कि स्कूलों के स्तर पर ही हमें बच्चों को तैयार करना होगा.
विज ने कहा कि राई में स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी बनाई है और इसमें थोड़ी बहुत अड़चनें हैं जो जल्द ही हट जाएंगी और यह जल्द संचालित हो जाएगी. उन्होंने कहा कि हमें साइंटिफिक कोचिंग की तरफ भी ध्यान देना होगा कि हमारे खिलाड़ियों को पोषण के रूप में क्या मिलना चाहिए ताकि वे अपना अच्छा प्रदर्शन कर सकें.

उन्होंने कहा कि टोक्यो ओलंपिक में भारत का गोल्ड आना एक बहुत बड़ी उपलब्धि है और इस उपलब्धि के सामने मैं अपने आपको नहीं रोक सका. मैं झूम-झूम कर नाचने व गाने लगा. उन्होंने कहा कि जब मैं नाच सकता हूं तो ऐसे में कोई भी व्यक्ति अपने आप को नहीं रोक सकता.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज