Assembly Banner 2021

हरियाणा: खट्टर सरकार खरीदेगी 1300 नई बसें, 31 मार्च तक रोडवेज के बेड़े में होंगी शामिल

हरियाणा सरकार का बड़ा ऐलान

हरियाणा सरकार का बड़ा ऐलान

Haryana Roadways: 400 बसें 31 मार्च तक ही रोडवेज बेड़े में शामिल हो जाएंगी. फरीदाबाद और गुगरुग्राम के लिए हरियाणा सरकार ने अलग से योजना बनाई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 26, 2021, 11:23 AM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा रोडवेज (Haryana Roadways) के बेड़े में 1300 नई बसें शामिल होंगी. इनमें 800 बसों को इसी साल बेड़े में शामिल कर लिया जाएगा. इन बसों की खरीद के बाद 500 और बसों का ऑर्डर दिया जाएगा. इस साल जो 800 बसें खरीदी जानी हैं, उनमें से 400 बसें 31 मार्च तक हरियाणा रोडवेड के बेड़े में शामिल होंगी. हाई पावर परचेज कमेटी (High power purchase committee) की बैठक में टेंडर में आने वाली कंपनियों से एक साथ 800 बसों की खरीद के लिए बात होगी.

गुरुग्राम और फरीदाबाद को सरकार मेट्रोपालिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी बना चुकी है. इन शहरों में इलेक्ट्रिक बसें ही चलेंगी. लो-फ्लोर की एसी बस भी इन शहरों के लिए सरकार खरीदेगी. इन दोनों शहरों से नई बसों की डिमांड के बारे में पूछा गया है. सरकार ने कॉलेज एवं विश्वविद्यालयों के विद्यार्थियों के लिए भी बस सेवा शुरू की हुई है.

वर्तमान में परिवहन विभाग के पास 3329 सामान्य बस हैं. इनमें से वर्तमान में 2323 सड़कों पर हैं. कोरोना और दिल्ली बार्डर पर चल रहे किसानों के आंदोलन की वजह से बाकी बस नहीं चल पाई. किमी स्कीम वाली भी 508 बस परिवहन बेड़े में हैं. वर्तमान में वोल्वो की कुल 20 बस सरकार के पास हैं. इनमें अभी चंडीगढ़ से गुरुग्राम रूट पर एक ही बस चलाई जा रही है.



सीएम ने कही थी ये बात
कोरोना की वजह से सरकार चरणबद्ध तरीके से बसों को चला रही है. दिल्ली बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन होने की वजह से वोल्वो बसों को अभी नहीं चलाया जा रहा. पिछले दिनों नई बसों को लेकर परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने सीएम मनोहर लाल खट्टर से मुलाकात की थी. इस दौरान सीएम ने स्पष्ट तौर पर कहा कि 800 बसों की खरीद तुरंत की जाए. 500 और नई बसों के लिए भी सैद्धांतिक रूप से मंजूरी मिल गई है, लेकिन इनके आर्डर 800 बस आने के बाद दिए जाएंगे.

इलेक्ट्रिक बसें भी खरीदेगी सरकार
इसी तरह से नई एसी बसें, लो-फ्लोर बस और मिनी बसों की भी सरकार खरीद करेगी. इलेक्ट्रिक बसों की भी खरीद की जानी है. इसके लिए विभाग से विस्तृत रिपेार्ट तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं. सरकार ने भविष्य में इलेक्ट्रिक बसों की खरीद पर ही फोकस करने का मन बना लिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज