Lockdown 2.0: दुष्यंत चौटाला ने किया साफ- हरियाणा में विशेष शर्तों में मिलेगी छूट

हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला. (फाइल फोटो)

हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने प्रदेश में अलग-अलग जोन बनाकर लॉकडाउन-2 के दौरान कुछ छूट देने के संबंध में तैयारी की बात कही है.

  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने प्रदेश में अलग-अलग जोन बनाकर लॉकडाउन-2 के दौरान कुछ छूट देने के संबंध में तैयारी की बात कही है. न्यूज 18 इंडिया से बातचीत के दौरान चौटाला ने इंडस्ट्रीज को हो रहे नुकसान को देखते हुए भी कुछ विशेष शर्तों के साथ इसे शुरू करने के लिए परमिशन देने की बात भी कही है. इसके साथ ही लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान शराब फैक्ट्रियों को शुरू करने की परमिशन को लेकर चौटाला ने साफ किया कि सरकार कोई भी शराब का ठेका खोलने नहीं जा रही है और जितनी भी डिस्टिलरीज हरियाणा में है वहां पर सैनिटाइजर बनाने का काम भी चल रहा है. उन्होंने कहा कि इस कारण से इन शराब फैक्ट्रियों और डिस्टलरीज को चलने की परमिशन दी गई है, लेकिन कुछ लोग बेवजह इसका गलत आंकलन कर रहे हैं.

उन्होंने सैनिटाइजर में अल्कोहल की मात्रा ज्यादा होने की शिकायतों पर इस मामले की जांच कराने की बात कही. इस दौरान डिप्टी सीएम चौटाला ने साफ कर दिया कि तय मानकों से ज्यादा अल्कोहल वाले सैनिटाइजर बांटने या बेचने की परमिशन सरकार की तरफ से नहीं दी जाएगी.

बढ़ते जा रहे हैं संक्रमण के मामले
भारत में हर दिन कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले बढ़ते जा रहे हैं. संपूर्ण लॉकडाउन के बावजूद कोरोना संक्रमितों की संख्या 10 हजार पार कर गई है. अब तक 339 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने लॉकडाउन को और 19 दिन के लिए बढ़ा दिया है. पीएम मोदी के इस फैसले के बाद अब देशभर में 3 मई तक लॉकडाउन रहेगा. इस दौरान न ट्रेनें चलेंगी और न प्लेन. मेट्रो और रोडवेज सेवाएं भी बंद रहेंगी.

पीएम मोदी ने कही ये बात
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सभी की तरफ से सुझाव आए हैं कि लॉकडाउन को बढ़ाया जाए. सभी के सुझावों को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है कि लॉकडाउन को तीन मई तक के लिए बढ़ाया जाए. इस बार नियमों को और सख्त किया गया है. ऐसे में सभी लोग अनुशासन के साथ अपने घर में ही रहें. हालांकि, पहले लॉकडाउन को अगले दो हफ्ते यानी 30 अप्रैल तक बढ़ाने की बात की जा रही थी. ऐसे में सवाल ये है कि लॉकडाउन को 30 अप्रैल के बजाय 3 मई तक क्यों बढ़ाया गया?

राज्यों के सुझाव पर लिया गया ये फैसला
सरकार से जुड़े सूत्रों की मानें तो लॉकडाउन की मियाद को 30 अप्रैल की बजाय 3 मई करने का फैसला राज्यों की ओर से आए सुझावों के आधार पर लिया गया है. कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने केंद्र को 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ाने का सुझाव दिया था. दरअसल, एक मई को मजदूर दिवस होता है. 2 और 3 मई को शनिवार-रविवार पड़ जा रहा है. लिहाजा राज्यों ने 30 अप्रैल के बाद अगले तीन दिन तक लॉकडाउन को जारी रखने का सुझाव दिया.

दिए गए इस तरह के तर्क
कई राज्यों ने ये तर्क भी दिया है कि कोरोना संक्रमण के लक्षण पूरी तरह से 7 से 14 दिन में समझमें आते हैं. ऐसे में अगर 15 या 16 दिन का ही लॉकडाउन होता, तो लक्षण स्पष्ट नहीं आते. इसलिए इनमें 3 दिन और जोड़ दिए गए. यानी कुल मिलाकर 19 दिन हुए. अगर कोई कोरोना से संक्रमित होता भी है, तो भी इतने समय के अंदर उसके लक्षण सामने आ जाएंगे.



ये भी पढ़ें:

COVID-19: हरियाणा में इन क्षेत्रों को किया गया कोरोना हॉट स्पॉट घोषित

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.