• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • हरियाणा: धान खरीद में देरी पर किसानों का गुस्‍सा फूटा, CM समेत कई मंत्री और विधायकों के घर का किया घेराव

हरियाणा: धान खरीद में देरी पर किसानों का गुस्‍सा फूटा, CM समेत कई मंत्री और विधायकों के घर का किया घेराव

Kisan Aandolan: हरियाणा में धान खरीद न होने से गुस्साए किसानों ने मंत्रियों के घर का घेराव किया.

Kisan Aandolan: हरियाणा में धान खरीद न होने से गुस्साए किसानों ने मंत्रियों के घर का घेराव किया.

Farmers Protest on Paddy procurement in Haryana: संयुक्‍त किसान मोर्चा के आह्वान पर किसानों ने सीएम मनोहर लाल खट्टर के अलावा कई मंत्री और विधायकों के घरों का घेराव किया है. किसान इस समय धान की खरीद नहीं होने से नाराज हैं.

  • Share this:

    चंडीगढ़. हरियाणा में धान की खरीद बंद करने पर किसानों का गुस्सा फूटा है. इसी वजह से जींद, भिवानी, करनाल और पानीपत सहित कई जगह किसान सड़कों पर निकले हैं. इस दौरान किसानों ने सीएम मनोहर लाल खट्टर के करनाल स्थित घर का घेराव किया, तो भिवानी में कृषि मंत्री जेपी दलाल के आवास पर जमकर हंगामा किया. जबकि सुरक्षा को लेकर मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. किसानों ने मंत्री के गैरमौजूदगी में पीए को मांगपत्र सौंपा और हरियाणा सरकार पर किसानों की उपेक्षा करने का आरोप लगाया.

    वहीं, किसानों के विरोध को देखते हुए धान खरीद जल्दी कराने के विषय पर प्रदेश सरकार गंभीर हो गई है. इसी वजह से मुख्यमंत्री मनोहर लाल और कृषि मंत्री जेपी दलाल दिल्ली जाएंगे. इस दौरान केंद्रीय खाद्य आपूर्ति मंत्री अश्विनी चौबे से मुलाकात की जाएगी. धान की खरीद न होने पर पंचकूला में किसान प्रदर्शन कर रहे हैं. पंचकूला में किसानों का विधायक ज्ञानचंद गुप्ता के आवास के घेराव का कार्यक्रम था. इस दौरान चंडीमंदिर टोल प्लाजा से घेराव के लिए निकले किसानों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया है. कुछ किसान भाजपा कार्यालय के बाहर भी पहुंचे हैं.

    वहीं, किसानों का कहना है कि सरकार एक-एक दाना खरीदने का दावा करती है लेकिन अब अब खरीद बंद क्यों है. खरीद में देरी से किसान की फसल औने-पौन दामों में पिटेगी. मांगपत्र के माध्यम से जल्द खरीद करने की मांंग की गई है. साथ में बेमौसमी बारिश से बर्बाद फसलों का मुआवज़ा देने और खेतों में खड़े पानी की निकासी की भी मांंग की है.

    विधायकों का आवास भी घेरा

    जींद जिले में फसल खरीद को लेकर हरियाणा सरकार तक बात पहुंचाने के लिए किसानों ने जेजेपी विधायक रामनिवास सुरजाखेड़ा के आवास के बाहर डेरा डाला है. किसान धान की सरकारी खरीद को 11 अक्टूबर तक स्थगित करने पर विरोध कर रहे हैं, क्योंकि हरियाणा में जेजेपी और बीजेपी की गठबंधन सरकार है, इसलिए किसानों ने आवाज बुलंद करने के लिए जेजेपी विधायक का आवास घेरा है. दरअसल, हरियाणा सरकार हाल ही में हुई बरसात के कारण नमी और फसल के सही से पकी न होने का हवाला देकर तारीख बढ़ाने का पत्र जारी कर चुकी है. किसानों का कहना है कि सरकार धान में नमी पाए जाने पर कटौती कर सकती है, लेकिन खरीद शुरू की जाए. मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है.

    मंडी पहुंचे सांसद हुड्डा

    हरियाणा से राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा पानीपत की नई अनाजमंडी में पहुंचे हैं. वह यहां नई अनाजमंडी में सांकेतिक धरने पर बैठे गए हैं. हुड्डा ने कहा कि 10 तारीख से विपक्ष आपके द्वार कार्यक्रम शुरु होगा. प्रदेश के हर जिले में जाकर जनता की नब्ज टटोली जाएगी. हुड्डा ने कहा कि सरकार ने किसानों और आम आदमी के साथ धोखा किया.

    पुलिस मौके पर पहुंची

    टोहाना संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर स्थानीय विधायक देवेंद्र सिंह बबली के निवास स्थान सैकड़ों की संख्या में किसान पहुंचे हैं. किसानों ने देवेंद्र सिंह बबली के निवास स्थान के बाहर धरना दिया है. किसानों की मांग है कि जल्द धान की खरीद को शुरू करवाया जाए, खराब फसलों का मुआवजा दिया जाए, जब तक सरकार के हमारी मांगें नहीं मानती, तब तक अनिश्चितकालीन धरना जारी रहेगा. सुरक्षा की दृष्टि से विधायक के निवास स्थान पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. फिलहाल विधायक अपने निवासी स्थान पर उपस्थित नहीं है.

    क्या बोले किसान

    किसान नेता नरेंद्र सिवाच व रणजीत सिंह ने बताया कि धान की फसल पककर अनाज मंडियों तक पहुंच चुकी है, लेकिन सरकार खरीद का काम रोक दिया है. विधायक के घर के बाहर धरना प्रदर्शन तब तक चलेगा, जब तक किसानों की मांगें नहीं मानी जाती. सरकार चंद पूजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए किसान को बर्बाद करना चाहती है. सरकार किसान विरोधी नीतियों को अपनाकर फसल खरीद पर MSP खत्म करना चाहती है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज