PCC अध्यक्ष सैलजा ने CM खट्टर को लिखा पत्र, किसानों की बर्बाद फसल के लिए मांगा मुआवजा

कुमारी सैलजा ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से बारिश और ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को 20 दिन के अंदर मुआवजा देने की मांग की है (फाइल फोटो)
कुमारी सैलजा ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से बारिश और ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को 20 दिन के अंदर मुआवजा देने की मांग की है (फाइल फोटो)

हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी सैलजा (Kumari Selja) ने मुख्यमंत्री खट्टर (CM Manohar Lal Khattar) को लिखे अपने पत्र में कहा कि सरकार तुरंत प्रभाव से फसलों की विशेष गिरदावरी करवाकर सभी प्रभावित किसानों को 20 दिन के अंदर मुआवजा प्रदान करे, जिससे उन्हें कुछ हद तक राहत मिल सके

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 16, 2020, 11:06 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी सैलजा (Kumari Selja) ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (CM Manohar Lal Khattar) को पत्र लिखकर राज्य में बारिश और ओलावृष्टि के कारण बर्बाद हुई फसलों की विशेष गिरदावरी करवा कर प्रभावित किसानों को 20 दिन के अंदर मुआवजा देने की मांग की है. सोमवार को कुमारी सैलजा ने कहा कि रविवार को प्रदेश के कई जिलों में हुई बारिश और ओलावृष्टि से सरसों, सब्जियों और अन्य फसलों को 80 प्रतिशत से अधिक तक का नुकसान हुआ है. उन्होंने कहा कि किसानों द्वारा हाल ही में गेहूं की फसल की बुवाई की गई थी, वो भी कई स्थानों पर इस बारिश और ओलावृष्टि से नष्ट हो गई है. वहीं कई स्थानों पर किसानों द्वारा बिक्री के रखी धान की फसल को भी भारी नुकसान पहुंचा है. कुदरत की मार से किसानों को भारी नुकसान पहुंचा है.

कुमारी सैलजा ने कहा कि जब से केंद्र और प्रदेश में बीजेपी की सरकार आई है तब से हमारे मेहनतकश किसानों पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है. पिछले छह वर्ष के ज्यादा के समय से किसान लगातार इस सरकार की मार झेल रहे हैं. यह सरकार बार-बार किसानों को प्रताड़ित करने का काम कर रही है. उन्होंने कहा कि किसान मौजूदा सरकार में दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं. कोरोना महामारी में उपजे हालात ने किसानों की कमर तोड़कर रख दी है.


बेमौसम की बारिश-ओलवृष्टि ने किसानों की उम्मीदों को धराशाई किया



पीसीसी अध्यक्ष ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि विरोधी काले कानून किसानों पर कहर बनकर टूट रहे हैं. प्रदेश में किसानों की फसलें औने-पौने दामों पर बिक रही हैं. फसलों में नमी बताकर उनकी खरीद नहीं की जा रही है. किसान दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर है. वहीं, अब बेमौसम हुई बारिश और ओलावृष्टि ने किसानों की उम्मीदों को पूरी तरह धराशाई कर दिया है.

बरोदा की जनता अब अपने मन की बात बताएगी: कुमारी सैलजा-kumari selja statement on baroda by election hrrm
हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने बारिश से बेहाल हुए किसानों के मुद्दे पर मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर उनके लिए मुआवजे की मांग की है (फाइल फोटो)


कुमारी सैलजा ने कहा कि प्रदेश का किसान पहले ही इस सरकार की जनविरोधी नीतियों की मार झेल रहा है. ऐसे समय में कुदरत की यह मार किसानों के लिए बिल्कुल ही असहनीय है, जिसे दूर करने के लिए सरकार द्वारा तत्काल प्रभाव से प्रभावी कदम उठाए जाने की बेहद आवश्यकता है. सरकार तुरंत प्रभाव से फसलों की विशेष गिरदावरी करवाकर सभी प्रभावित किसानों को 20 दिन के अंदर मुआवजा प्रदान करे, जिससे उन्हें कुछ हद तक राहत मिल सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज