हरियाणा से बड़ी खुशखबरी, लिंगानुपात 900 के पार
Chandigarh-City News in Hindi

हरियाणा से बड़ी खुशखबरी, लिंगानुपात 900 के पार

  • Share this:
कम लिंगानुपात के लिए बदनाम हरियाणा से बड़ी खुशखबरी आई है. पिछले 10 साल में पहली बार एक हजार लड़कों के मुकाबले लड़कियों का अनुपात 900 के पार पहुंच गया है.

मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का कहना है कि सरकार का 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' अभियान बहुत हद तक बेटियों को बचाने में कामयाब रहा है. प्रदेश में पहली बार लिंग अनुपात 900 के पार हुआ है.
खट्टर ने शनिवार को चंडीगढ़ में पत्रकारों को बताया कि प्रदेश में बेटियों की तादाद बढ़ रही है और यह अच्‍छी बात है. सिरसा में सबसे ज्यादा लिंगानुपात 999 है. पंचकूला में 961, करनाल में 959, फतेहाबाद में 952, गुड़गांव में 946, सोनीपत 942, जींद में 940, रेवाड़ी में 931, मेवात में 923, भिवानी व महेंद्रगढ़ में 912, हिसार में 906 और झज्‍जर में 794 लिंगानुपात है.

सीएम ने कहा कि ये नतीजे 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' अभियान के हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महात्वाकांक्षी अभियान का हरियाणा में सकारात्मक परिणाम दिखा है, जिसके तहत 15 साल में पहली बार लिंगानुपात 900 के पार हुआ है.



इस मौके पर स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बताया कि पीएनडीटी एक्ट के तहत कन्या भ्रूण हत्या रोकने के लिए सख्ती से कदम उठाए गए हैं. इस कड़ी में करीब 17 लोगों को एक लाख रुपए का इनाम दिया गया है, जिन्होंने भ्रूण हत्या करवाने वालों के खिलाफ सूचना दी थी. लिंगानुपात बढ़ाने और भ्रूण हत्या रोकने के लिए सरकार तमाम कोशिशें कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading