Corona की चपेट में आए हरियाणा विधानसभा स्‍पीकर ज्ञान चंद गुप्‍ता, 2 दिन बाद शुरू होगा मानसून सत्र
Chandigarh-City News in Hindi

Corona की चपेट में आए हरियाणा विधानसभा स्‍पीकर ज्ञान चंद गुप्‍ता, 2 दिन बाद शुरू होगा मानसून सत्र
हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष हैं ज्ञान चंद गुप्ता

विधानसभा सत्र (Assembly session) शुरू होने से दो दिन पहले विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता (Gian Chand Gupta) और भाजपा के दो विधायक समेत विधानसभा के छह कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 24, 2020, 7:00 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा विधानसभा का मानसून सत्र शुरू होने से दो दिन पहले विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता (Gian Chand Gupta) और भाजपा के दो विधायक कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इस बात की जानकारी हरियाणा के गृह और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने दी है. यही नहीं, विधानसभा अध्यक्ष और दो विधायकों के अलावा विधानसभा के छह कर्मचारियों में भी कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है.

अनिल विज ने कही ये बात
हरियाणा के गृह और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्‍ता के अलावा विधायक असीम गोयल और राम कुमार भी कोरोना वायरस संक्रमण की जांच में पॉजिटिव पाए गए हैं. आपको बता दें कि गुप्ता पंचकूला विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं, तो गोयल अंबाला शहर से और कुमार इंदरी से विधायक हैं.

गुप्‍ता की जगह गंगवा करेंगे अध्‍यक्षता
विधानसभा अध्यक्ष की अनुपस्थिति में उपाध्यक्ष रणबीर गंगवा सदन की अध्यक्षता करेंगे. इससे पहले दिन की शुरुआत में गुप्ता ने ट्वीट किया कि रविवार को उनकी कोरोना वायरस जांच हुई थी, जिसमें संक्रमण की पुष्टि हुई है. उन्होंने कहा कि वह ठीक महसूस कर रहे हैं और डॉक्टरों की सलाह पर वह घर में ही पृथक-वास में रह रहे हैं. वहीं, ज्ञान चंद गुप्ता ने पिछले दिनों संपर्क में आए लोगों से अपनी जांच कराने और पृथक-वास में रहने को कहा है.



हरियाणा में कोविड-19 के 54386 मामले
कोरोना वायरस का कहर हरियाणा में भी जारी है. राज्य में अब तक 54386 लोग संक्रमित हो चुके हैं, तो मृतकों की संख्या 603 हो गयी है. जबकि पिछले कुछ दिनों से राज्य में संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.राज्य में वर्तमान में 8961 मरीजों का उपचार चल रहा है जबकि 44,822 लोग ठीक हो चुके हैं. वहीं, राज्‍य में ठीक होने की दर 82.41 प्रतिशत हो गयी है, तो मृत्यु दर 1.11 प्रतिशत है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज