Home /News /haryana /

जाट आरक्षण मामला: याचिकाकर्ता ने की मामले को दूसरी कोर्ट में ट्रांसफर करने की मांग

जाट आरक्षण मामला: याचिकाकर्ता ने की मामले को दूसरी कोर्ट में ट्रांसफर करने की मांग

Photo- ETV

Photo- ETV

जाट आरक्षण मामले पर मंगलवार को पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. सुनवाई के दौरान यादव महासभा के वकील पीआर यादव ने अपनी याचिका को सम्बन्धित कोर्ट से ट्रांसफर किये जाने की मांग की.

जाट आरक्षण मामले पर मंगलवार को पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. सुनवाई के दौरान यादव महासभा के वकील पीआर यादव ने अपनी याचिका को सम्बन्धित कोर्ट से ट्रांसफर किये जाने की मांग की.

इसे लेकर जस्टिस एसएस सारों ने कहा कि आप ये अर्जी उचित माध्यम से दायर करें. वहीं दूसरी औऱ कुम्हार महासभा के वकील वीके जिंदल ने मामले में अपनी दलीले जारी रखी.

मामले की अगली सुनवाई अब 24 जनवरी को होगी और तब तक मामले में यथास्थिति बनी रहेगी.

हरियाणा सरकार ने जाट आंदोलन के बाद ने आरक्षण की घोषणा कर दी थी. जिसमें जाटों सहित 6 जातियों को आरक्षण ओबीसी के तहत रिजर्वेशन देने का प्रावधान था. इसके इसके खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी.

क्या है पिछड़ा आरक्षण नीति

भारतीय के संविधान के अनुच्छेद 15 और 16 में सामाजिक और शैक्षणिक रूप से पिछड़े वर्गों के लिए आरक्षण का प्रावधान है. बस शर्त यह है कि ये सिद्ध किया जा जाए कि वे औरों के मुकाबले सामाजिक और शैक्षणिक रूप से पिछड़े हैं. क्योंकि अतीत में उनके साथ अन्याय हुआ है, ये मानते हुए उसकी क्षतिपूर्ति के तौर पर, आरक्षण दिया जा सकता है.

Tags: Haryana politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर