लाइव टीवी

फिर टूटा हनीप्रीत का जेल से बाहर आने का सपना, HC ने जमानत याचिका की खारिज

Umesh Sharma | News18 Haryana
Updated: September 4, 2019, 5:08 PM IST
फिर टूटा हनीप्रीत का जेल से बाहर आने का सपना, HC ने जमानत याचिका की खारिज
हनीप्रीत को हाईकोर्ट से लगा बड़ा झटका

हाईकोर्ट के जज ने हनीप्रीत की जमानत याचिका को खारिज कर दिया है. इससे पहले भी हनीप्रीत की याचिका निचली अदालत से खारिज हो गई थी.

  • Share this:
चंडीगढ़. डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत (Honeypreet) को हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है. हाईकोर्ट (Highcourt) के जज ने हनीप्रीत की जमानत याचिका को खारिज कर दिया है. इससे पहले भी हनीप्रीत की याचिका निचली अदालत से खारिज हो गई थी. ऐसे में हनीप्रीत का जमानत पर जेल से बाहर निकलना मुश्किल लग रहा है.

बता दें कि हनीप्रीत ने हाई कोर्ट में जमानत याचिका दायर की थी. इस याचिका पर जब पिछली सुनवाई के दौरान जस्टिस सुरेंद्र गुप्ता ने फाइल देखते ही मामले पर सुनवाई से इन्कार कर दिया. उन्होंने मामले को अन्य बेंच को देने के लिए चीफ जस्टिस को रेफर कर दिया.

हनीप्रीत के वकील का कहना था कि उन्हें पक्ष रखे जाने का अवसर दिया जाना चाहिए. इसके बाद आज सुनवाई होनी थी, लेकिन जज ने सुनवाई से इन्कार कर दिया. हनीप्रीत ने याचिका में बताया कि इन दंगों की साजिश रचे जाने को लेकर 27 अगस्त 2017 को शिकायत दर्ज करवाई गई थी, तब शिकायत सिर्फ आदित्य इंसा और सुरिंदर धीमान के खिलाफ ही दर्ज की गई थी.

हनीप्रीत की दलील गलत तरीके से फंसाया

याचिकाकर्ता का कहना है कि इसके बाद 3 अक्तूबर 2017 को उसने पुलिस के समक्ष समर्पण कर दिया था तभी से वह न्यायिक हिरासत में है. इस मामले में उसे गलत तरीके से फंसाया गया है और वह पिछले डेढ़ वर्ष से जेल में है.

याचिका में दी गई ये दलील

याचिका में कहा है कि 25 अगस्त 2017 को जब पंचकूला सीबीआइ अदालत ने गुरमीत राम रहीम को साध्वी यौन शोषण मामले में दोषी करार दिया था तो उसके बाद पंचकूला में हुए दंगों की साजिश रचे जाने का उस पर आरोप लगाया गया था, जबकि जिस समय दंगे हुए थे वह उस समय डेरा प्रमुख के साथ थी.
Loading...

ये भी पढ़ें:- बुलेट से पटाखे बजाना पड़ा महंगा, पुलिस ने काटा 17,500 रुपये का चालान

ये भी पढ़ें:- BJP नेता ने चालान कटने पर कहा, पुलिस वालों ने अकड़ निकालने की दी मुझे धमकी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुड़गांव से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 4, 2019, 3:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...