लाइव टीवी

कभी हॉकी खेलने से रोकती थी मां, अब विश्व कप में कप्तान बेटे को खेलते देखेंगी
Chandigarh-City News in Hindi

News18Hindi
Updated: November 28, 2018, 11:16 AM IST
कभी हॉकी खेलने से रोकती थी मां, अब विश्व कप में कप्तान बेटे को खेलते देखेंगी
मां के साथ मनप्रीत सिंह

मनप्रीत के बड़े भाई अमनदीप और सुखराज हॉकी खेलते थे. वह उन्हें देखने के लिए मिट्ठापुर के खेल मैदान में पहुंच जाता था. सुखराज जिला स्तर पर हॉकी खेल चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2018, 11:16 AM IST
  • Share this:
हॉकी वर्ल्ड कप का आगाज 2018 भुवनेश्वर में आज से हो रहा है. टीम इंडिया पहले मैच में द. अफ्रीका के खिलाफ खेलेगी. इसमें जालंधर का होनहार टीम इंडिया की कप्तनी करने वाला है. टीम इंडिया के कप्तान मनप्रीत सिंह को कभी उनकी मां हॉकी खेलने से रोकती थी और आज वहीं मनप्रीत टीम इंडिया की वर्ल्ड में कप्तानी करने जा रहे हैं. वहीं जो मां अपने बेटे को खेलने से रोकती थी वहीं मां अब बेटे की कप्तानी और उसका खेल देखने के लिए भुवनेश्वर गई हैं.

भाईयों को हॉकी खेलते देखा तो 8 साल की उम्र में थाम ली हॉकी

मनप्रीत के बड़े भाई अमनदीप और सुखराज हॉकी खेलते थे. वह उन्हें देखने के लिए मिट्ठापुर के खेल मैदान में पहुंच जाता था. सुखराज जिला स्तर पर हॉकी खेल चुके हैं. उस समय सुखराज 15 वर्ष और अमनदीप 18 के थे. दोनों भाइयों को हॉकी खेलते देख मनप्रीत ने भी आठ वर्ष की आयु में हॉकी थाम ली.

हॉकी खेलने से मनप्रीत को रोकती थी उनकी मां



मनप्रीत को बचपन से ही हॉकी खेलने का बहुत शौक था. बचपन में अपने भाईयों को हॉकी खेलते देख मनप्रीत ने 8 साल की उम्र में ही हॉकी थाम ली. लेकिन इस दौरान उनकी मां से उनको कई बार डांट सुननी पड़ी. दरअसल मनप्रीत तीनों भाईयों में सबसे छोटे थे. हॉकी खेलते कहीं उनको चोट न लग जाए इसलिए उनकी मां और अन्य घरवाले उन्हें हॉकी खेलने से रोकते थे.



कई बार मनप्रीत को कमरे में किया गया बंद

घरवाले मनप्रीत को हॉकी खेलने से रोकते थे लेकिन उनकी जिद के आगे किसी की नहीं चलती थी. कई बार मनप्रीत को कमरे में बंद कर दिया जाता था, लेकिन वो खिड़की खोल और दीवार फांदकर मैदान में पहुंच जाता था. मनप्रीत हॉकी खेलने के लिए रिश्तेदारों के फंक्शन तक में नहीं जाता था.



मां बोलीं जीतकर आएगा बेटा

मनप्रीत का मां निर्मलजीत कौर का कहना है कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि इस बार भारत की टीम वर्ल्ड कप में अच्छा प्रदर्शन करेगी औऱ विश्व कप अनपे नाम करेगी. उन्होंने कहा कि उनका बेटा देश के लिए अच्छा प्रदर्शन करेगा. भुवनेश्वर बेटे का मैच देखने पहुंची उनकी मां ने कहा कि वो इससे पहले भी चंडीगढ़ और दिल्ली में हुई हॉकी चैंपियनशिप में स्टेडियम जाकर अपने बेटे का मैच देख चुकी हैं.

ये भी पढ़ें:-

Hockey World Cup 2018: साउथ अफ्रीका से होगा भारत का पहला मैच, ये है पूरा शेड्यूल

Hockey World Cup 2018 का भव्य आगाज, माधुरी- रहमान ने दी हैरतअंगेज परफॉर्मेंस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2018, 11:13 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर