CM खट्टर के जनता दरबार में उद्यमियों ने लगाई गुहार, कहा- टिकरी बॉर्डर का रास्ता खुलवाइए

मनोहर लाल खट्टर के दरबार में उद्यमियों ने टिकरी बॉर्डर का रास्ता खुलवाने की गुहार लगाई है.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने चंडीगढ़ स्थित हरियाणा निवास में जनता दरबार लगाकर प्रतिनिधिमण्डलों की शिकायतें सुनी. इस मौके पर उद्यमियों का एक प्रतिनिधिमंडल उनसे मिला और किसान आंदोलन की वजह से बंद टिकरी बॉर्डर खुलवाने का आग्रह किया.

  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने चंडीगढ़ स्थित हरियाणा निवास में बुधवार को जनता दरबार लगाया. यहां पर प्रतिनिधिमण्डलों की शिकायतें सुनी और मौके पर ही उनके निवारण हेतु अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये. बहादुरगढ़ फुटवियर एसोसिएशन के उद्यमियों के प्रतिनिधिमंडल ने किसान आंदोलन के कारण हो रहे नुकसान और समस्याओं से सीएम को अवगत करवाया. मुख्यमंत्री ने डीजीपी मनोज यादव को इस मामले में कड़ा संज्ञान लेने के आदेश दिए. बहादुरगढ़ चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री को बताया कि किसान आंदोलन के चलते मुख्य हाइवे कई महीनों से बंद पड़ा है, जिसकी वजह से यहां पर उद्योग बंद होने की कगार पर पहुंच गए हैं.

उद्यमियों ने कहा कि अगर जल्द से जल्द रास्ता नहीं खुलवाया गया तो फिर फुटवियर इंडस्ट्री के लिए गंभीर संकट खड़ा हो जाएगा साथ ही यहां काम कर रहे हैं हजारों लोगों के रोजगार पर भी संकट खड़ा हो जाएगा. इंडस्ट्री हरियाणा से बाहर प्लान करना शुरू कर देगी. बहादुरगढ़ मॉडर्न इंडस्ट्रियल एस्टेट की यूनियन ने सीवर और सड़कों के बनने की धीमी गति के बारे अवगत करवाया. जिस पर उन्होंने एचएसआईआईडीसी के मैनेजिंग डायरेक्टर अनुराग अग्रवाल को  सोमवार से ही कंस्ट्रक्शन शुरू करवाने के आदेश दिए. कई इंडस्ट्रीज एसोसिएशन ने फायर एनओसी मिलने में हो रही देरी का मुद्दा उठाया जिस पर मुख्यमंत्री ने अर्बन लोकल बॉडीस डिपार्टमैंट के अधिकारियों को तुरंत जांच के आदेश दिए और दोषी अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने को कहा.

इस दौरान आयुर्वेदिक मेडिकल अफसरों के प्रतिनिधि मंडल ने मांगे रखी। इस पर मुख्यमंत्री ने आने वाले समय में सीसीएच टेस्ट की अनिवार्यता एनएचएम के कर्मियों में समाप्त करने के आदेश दिए और जो मौजूदा कर्मचारी काम कर रहे हैं उन्हें डिपार्टमैंट को 15000 रूपये प्रतिमाह मानदेय देकर इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी से टेस्ट देने में मदद करने को कहा और किसी भी कर्मचारी को सीसीएच टेस्ट के चलते नौकरी से नहीं निकाला जाए. वी.एल.डी.ए. एसोसिएशन ने पिछले जनता दरबार में रखी मांगे पूरी करने  पर मुख्यमंत्री का आभार जताया.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल से दरबार में आईटीआई इंस्ट्रक्टर का एक प्रतिनिधि मंडल मिला और उन्होंने नियमित और स्थाई भर्ती को लेकर अपनी मांग रखी जिसके बारे में मुख्यमंत्री ने तुरंत जरूरी दिशा-निर्देश दिये. जिला हिसार की नारनौंद अनाज मंडी एसोसिएशन के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री के समक्ष अपनी मांग रखी, जिसमें अधिकारियों से 50 प्रतिशत हुए गेहूं के नुकसान की भरपाई के बारे में आग्रह किया. मुख्यमंत्री ने मामले में कड़ा संज्ञान लिया और खाद्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अनुराग रस्तोगी को तुरंत प्रभाव से संबंधित 9 अधिकारियों से रिकवरी करने के आदेश दिए और कहा कि जो सरकारी नुकसान हुआ है उसकी आधी भरपाई दोषी अधिकारियों से की जाये.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.