होम /न्यूज /हरियाणा /गुरुग्रामः लव मैरिज बनी वजह? BJP नेता सुखबीर की हत्या के आरोप में  JJP नेता का भाई गिरफ्तार

गुरुग्रामः लव मैरिज बनी वजह? BJP नेता सुखबीर की हत्या के आरोप में  JJP नेता का भाई गिरफ्तार

एसटीएफ ने जेजेपी के वरिष्ठ नेता रोहताश खटाना के भाई जोगिंदर खटाना को गिरफ्तार किया,

एसटीएफ ने जेजेपी के वरिष्ठ नेता रोहताश खटाना के भाई जोगिंदर खटाना को गिरफ्तार किया,

Gurgram Bjp Leader Murder: जेजेपी नेता ने न केवल चमन गुर्जर को उकसाना शुरू कर दिया, बल्कि सुखबीर की हत्या की साजिश के ल ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

रोहताश खटाना के भाई जोगिंदर खटाना ने हत्या के लिए पैसा उपलब्ध करवाया था.
गुरुग्राम में बीते 1 सितंबर को सदर बाजार इलाके में भाजपा नेता की हत्या कर दी गई थी.
हत्यारोपी चमन गुर्जर शूटर योगेश और जोगिंदर खटाना को गिरफ्तार किया है.

गुरुग्राम. हरियाणा के गुरुग्राम में बीते 1 सितंबर को सदर बाजार इलाके में भाजपा नेता की हत्या मामले में एसटीएफ ने जेजेपी के वरिष्ठ नेता रोहताश खटाना के भाई जोगिंदर खटाना को गिरफ्तार किया है. एसटीएफ आईजी सतीश बालन की मानें तो हत्यारोपी चमन गुर्जर ने एसटीएफ की पूछताछ में यह खुलासा किया कि रोहताश खटाना के भाई जोगिंदर खटाना ने उसे हत्या के लिए पैसा उपलब्ध करवाया, बल्कि उसे अपने ही जीजा की हत्या कें लिए उकसाने का काम किया है.

जेल के भीतर रची गयी भाजपा नेता सुखबीर की हत्या की साजिश

इस मामले में एसटीएफ आईजी की मानें तो चमन गुर्जर गैंगस्टर पपला गुर्जर का खास गुर्गा था.जेल में मिलाई के दौरान चमन गुर्जर ने पपला से अपने जीजा की हत्या का जिक्र किया था, जिसके बाद पपला गुर्जर ने अपने शार्प शूटर भेज भाजपा नेता की उस वक़्त हत्या को अंजाम दे डाला, जब सुखबीर खटाना गुरुग्राम के सदर बाजार में कपड़ों के शोरूम में खरीददारी करने के लिए आये थे.एसटीएफ ने इस हत्याकांड में हत्यारोपी चमन गुर्जर शूटर योगेश और बुधवार देर रात जोगिंदर खटाना को गिरफ्तार कर मामले की तफ़्तीश शुरू कर दी है.

क्यो की चमन गुर्जर ने भाजपा नेता की हत्या

दरअसल, भाजपा नेता सुखबीर खटाना ने चमन गुर्जर की बहन से प्रेम विवाह किया था और इसी के चलते ग्रामीण चमन गुर्जर को ताने मारने लगे. उस वक़्त चमन गुर्जर की उम्र 15/16 साल की थी. बस यही बात चमन गुर्जर को अखरने लगी और उसने सुखबीर के एन्टी ग्रुप रोहताश खटाना और उसके भाई से दोस्ती गांठ अपने अपमान का बदले की बात कही. तभी से जेजेपी नेता ने न केवल चमन गुर्जर को उकसाना शुरू कर दिया, बल्कि सुखबीर की हत्या की साजिश के लिए पैसा भी मुहैया करवा अपने राजनैतिक प्रतिद्वंदी को रास्ते से हटाने की साजिश को अंजाम दे डाला.

Tags: BJP, Brutal Murder, Haryana police, Murder

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें