Home /News /haryana /

हरियाणा कांग्रेस में लंबी होती जा रही सीएम पद के दावेदारों की फेहरिस्त

हरियाणा कांग्रेस में लंबी होती जा रही सीएम पद के दावेदारों की फेहरिस्त

भूपेंद्र हुड्डा, किरण चौधरी और रणदीप सुरजेवाला

भूपेंद्र हुड्डा, किरण चौधरी और रणदीप सुरजेवाला

रणदीप सुरजेवाला, राहुल गांधी और हरियाणा कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक तंवर के करीबी हैं तो इसलिए उनकी दावेदारी भी बड़ी है. लेकिन जींद उपचुनाव में हार के बाद उनकी दावेदारी कुछ फीकी नजर आ रही है.

    हरियाणा कांग्रेस में कितने कांटे? ये सवाल जींद उपचुनाव में खूब चर्चा में आया. जब हरियाणा कांग्रेस के दिग्गज नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा और कैबिनेट मंत्री रामबिलास शर्मा आमने सामने हुए तो बात कांटा निकालने की निकली और ये इशारा साफ-साफ रणदीप सुरजेवाला की तरफ था. दरअसल जींद उपचुनाव में कांग्रेस ने रणदीप सुरजेवाला को उतार कर ट्रंप कार्ड चलाया था लेकिन ये कार्ड कुछ असर नहीं कर पाया और सूरजेवाला अपनी सीट हार गए.

    लिहाज़ा अब लोकसभा और विधानसभा चुनाव भी नजदीक हैं तो कांग्रेस में सीएम उम्मीदवारों की फेहरिस्त भी लंबी है. एक तरफ सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री भुपेंद्र हुड्डा तो उनके सामने रणदीप सुरजेवाला और किरण चौधरी भी सीएम पद दावेदारी जता सकते हैं.

    कौन होगा सीएम पद का दावेदार

    रणदीप सुरजेवाला, राहुल गांधी और हरियाणा कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक तंवर के करीबी हैं तो इसलिए उनकी दावेदारी भी बड़ी है. लेकिन जींद उपचुनाव में हार के बाद उनकी दावेदारी कुछ फीकी नजर आ रही है. वहीं सीएलपी लीडर किरण चौधरी भी सीएम पद की खुले मंच से दावेदारी ठोक रही हैं. वहीं भुपेंद्र सिंह हुड्डा लंबे वक्त से संगठन में फेरबदल की मांग कर रहे हैं और इसके लिए वो बकायदा हाईकमान को पत्र तक लिख चुके हैं.

    हुड्डा को हाईकमान से ये उम्मीद

    हुड्डा ये उम्मीद लगाए बैठे हैं कि लोकसभा चुनाव से पहले संगठन में कुछ फेरबदल हो सकते हैं. अब कांग्रेस से सीएम पद का दावेदार कौन बनेगा ये आने वाला समय ही बताएगा. लेकिन एक बात तो साफ है कि राज्य कोई भी हो कांग्रेस संगठन में कहीं ना कहीं, अपने चहेतों को लेकर खींचतान रहती ही है.

    3 राज्यों में मिली जीत का क्या हरियाणा में मिलेगा फायदा

    अब संगठन की आपसी कलह कई बार कांग्रेस को देशभर में बैकफुट पर ला चुकी है. हाल ही में तीन राज्यों में कांग्रेस ने अपनी जीत का परचम लहराया है. इन्ही परिणामों को देखते हुए कांग्रेस में लोकसभा के लिए भी कुछ ऐसी ही आस जगी है. लेकिन सवाल अभी भी है कि हरियाणा कांग्रेस में आखिर कितने कांटे हैं.

    (चंडीगढ़ से नवजोत कौर की रिपोर्ट)

    ये भी पढ़ें:-

    राजकीय सम्मान के साथ हुआ शहीद सोमबीर का अंतिम संस्कार, 7 साल के बेटे ने दी मुखाग्नि

    एयर स्ट्राइक: ऑटो ड्राइवर ने लिया था ये प्रण, अब फ्री में एक महीने तक चलाएगा ऑटो

    बडगाम में एयरफोर्स का चॉपर क्रैश, हरियाणा का लाल शहीद

    आपके शहर से (चंडीगढ़)

    चंडीगढ़
    चंडीगढ़

    Tags: Ashok Tanwar, Bhupinder singh hooda, Chandigarh news, Haryana politics, Randeep Singh Surjewala

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर