Lockdown: हरियाणा में शराब की दुकानें कब खुलेंगी? जानें डिप्टी सीएम ने क्या कहा
Chandigarh-City News in Hindi

Lockdown: हरियाणा में शराब की दुकानें कब खुलेंगी? जानें डिप्टी सीएम ने क्या कहा
दुष्यंत चौटाला चौटाला पूर्व उप प्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल के पड़पोते हैं और उनकी पार्टी जननायक जनता पार्टी हरियाणा सरकार में एक घटक दल है.

देशभर में लॉकडाउन (Lockdown) के बीच जरूरी चीजों की दुकानों को खोलने के संबंध में छूट दिए जाने के बाद कई राज्यों में शराब की दुकानें खोलने को लेकर भी चर्चाएं हो रही हैं.

  • Share this:
चंडीगढ़. देशभर में लॉकडाउन (Lockdown) के बीच जरूरी चीजों की दुकानों को खोलने के संबंध में छूट दिए जाने के बाद कई राज्यों में शराब की दुकानें खोलने को लेकर भी चर्चाएं हो रही हैं. देशभर में शराब की दुकानों को खोलने को लेकर विभिन्न राज्य सरकारों ने आदेश जारी किए हैं. हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने कहा है कि प्रदेश में भी इस संबंध में केंद्र सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन किया जाएगा. चौटाला ने आज जारी एक बयान में कहा कि हरियाणा में लॉकडाउन 2.0 की अवधि यानी 3 मई तक शराब की दुकानें बंद रहेंगी. डिप्टी सीएम ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन हरियाणा में भी किया जाएगा. इसके तहत 3 मई तक शराब की दुकानें खोलने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

दुष्यंत चौटाला ने रविवार को जारी बयान में कहा कि हर जगह सभी चीजें एक ही तरह से लागू नहीं की जा सकती हैं. कोरोना वायरस के संक्रमण के संदर्भ में राज्य में आर्थिक गतिविधियों की शुरुआत को लेकर उन्होंने कहा कि हरियाणा में भी चरणबद्ध तरीके से हालात को देखते हुए निर्णय लिए जाएंगे. उन्होंने कहा कि हरियाणा में लॉकडाउन में छूट देने की शुरुआत चरणबद्ध तरीके से होगी. इसी क्रम में शराब की दुकानें खोलने के निर्णय को लेकर उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अभी शराब से आने वाले राजस्व की तरफ नहीं देख रही, बल्कि COVID-19 जैसी महामारी से निपटने के लिए केंद्र सरकार के साथ कदम से कदम मिलाकर चल रही है. हम इस संबंध में केंद्र सरकार के हर दिशा-निर्देश का पालन करेंगे.

शराब की दुकानें खोलने के संबंध में डिप्टी सीएम ने कहा कि मौजूदा हालात में इन दुकानों को 3 मई तक बंद रखने का ही फैसला किया गया है. उन्होंने कहा कि राज्य में औद्योगिक इकाइयों को खोलने के लिए सरकार ने ब्लॉक, जिला और प्रदेशस्तर पर कमेटियां गठित की हैं. प्रदेश के जो इलाके कोरोना प्रभावित नहीं हैं, वहां इंडस्ट्री खोले जाने के संबंध में यही कमेटियां फैसला करेंगी. प्रदेश में जो इलाके कंटेनमेंट जोन नहीं हैं, वहां कुछ शर्तों के साथ इंडस्ट्री खोलने की अनुमति दी जाएगी. प्रदेश में कोरोना वायरस पीड़ित मरीजों की बाबत उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय औसत के मुकाबले कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों के ठीक होने की तादाद हरियाणा में बेहतर है. लॉकडाउन से प्रभावित लोगों तक राहत सामग्री पहुंचाने का इंतजाम राज्य सरकार तत्परता से कर रही है. जरूरतमंद लोगों को राशन की दुकानों से फ्री राशन मिले, इसकी व्यवस्था की गई है.



ये भी पढ़ें-
Lockdown: कोटा में फंसे 44 छात्र हरियाणा रोडवेज की बस से पहुंचे जींद

COVID-19: दिल्ली-सोनीपत बॉर्डर सील, 3 मई तक आवाजाही पर बैन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज